Jan Sandesh Online hindi news website

तुर्की पर लगाए अमेरिका ने प्रतिबंध, ट्रंप बोले- ‘तुर्की की अर्थव्यवस्था कर देंगे बर्बाद’

0

अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने उत्तर-पूर्वी सीरिया में तुर्की की सैन्य कार्रवाई के विरोध में तुर्की अधिकारियों के खिलाफ नए प्रतिबंधों की घोषणा की। उन्होंने
कहा कि यदि तुर्की तबाही की राह पर बढ़ता चला गया तो हम उसकी अर्थव्यवस्था को तेजी से बर्बाद करने को तैयार हैं। साथ ही कहा स्टील पर शुल्क बढ़ाते हुए अमेरिका ने 100 अरब डॉलर के व्यापार सौदे पर बातचीत भी बंद कर दी है।

ट्रंप ने प्रशासन को तुर्की पर प्रतिबंध लगाने का दिया अधिकार
ट्रंप ने एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर करने के साथ ही प्रशासन को तुर्की पर प्रतिबंध लगाने का अधिकार दिया। वित्त मंत्रालय तुर्की के रक्षा मंत्री हुलसी अकार, आंतरिक मंत्री सुलेमान सोयलू और ऊर्जा मंत्री फातिह डोनमेज़ को अपनी प्रतिबंध सूची में पहले ही डाल चुका है। ट्रंप ने अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी को भेजे एक पत्र में तुर्की मामले को एक राष्ट्रीय आपदा बताया है। अमेरिका के सीरिया से अपने सैनिकों को वापस बुलाने के फैसले के बाद अंकारा ने बुधवार को सीमा पर कुर्द लड़ाकों पर हमला किया था।

और पढ़ें
1 of 257

ट्रंप के आदेश को विरोधियों ने कुर्दों से बताया विश्वासघात

अमेरिका के इस कदम की रिपब्लिक पार्टी ने निंदा की थी और कुछ ने इसे कुर्द के प्रति विश्वासघात बताया था। ट्रंप ने एक बयान में कहा, ‘यह कार्यकारी आदेश मानवाधिकार के गंभीर हनन, संघर्ष विराम को बाधित करने, विस्थापित लोगों को घर लौटने से रोकने, शरणार्थियों को जबरन वापस उनके देश भेजने या सीरिया में शांति, सुरक्षा और स्थिरता को खतरा पहुंचाने वालों के खिलाफ अमेरिका को कड़े प्रतिबंध लगाने का अधिकार देगा।’ उन्होंने कहा कि तुर्की की सैन्य कार्रवाई आम नागरिकों को खतरे में डाल रही है और क्षेत्र में शांति, सुरक्षा और स्थिरता को खतरा पहुंचा रही है।

अमेरिका ने तुर्की पर कई तरह की पाबंदी का किया ऐलान

अमेरिकी राष्ट्रपति ने सीधे चेतावनी देते हुए कहा कि वह तुर्की के अपने समकक्ष को यह पूरी तरह स्पष्ट कर चुके हैं कि उनकी कार्रवाई एक मानवीय संकट पैदा कर रही है और युद्ध अपराध जैसे हालात पैदा कर रही है। राष्ट्रपति ने कहा, ‘अगर तुर्की के नेताओं ने खतरनाक और विनाशकारी मार्ग पर चलना जारी रखा, तो मैं उसकी अर्थव्यवस्था को तेजी से बरबाद करने को पूरी तरह तैयार हूं।’ उन्होंने बताया कि आदेश के तहत कई तरह की पाबंदियां लगाई जा सकती हैं जैसे आर्थिक पाबंदी, संपत्ति की खरीद-ब्रिक्री पर रोक, अमेरिका में प्रवेश पर प्रतिबंध आदि।

100 अरब डॉलर का व्यापार समझौता बंद करने की धमरी

तुर्की के साथ अमेरिका ने व्यापार सौदे की बातचीत बंद करने की भी धमकी दी। ट्रंप ने बताया कि अमेरिका तुर्की से 100 अरब डॉलर के व्यापार सौद पर बातचीत भी तत्काल बंद कर देगा। स्टील पर शुल्क भी 50 प्रतिशत बढ़ा दिया जाएगा। इस बीच, अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने एक बयान में कहा, ‘जैसा कि राष्ट्रपति ने स्पष्ट कर दिया है, उत्तर-पूर्वी सीरिया में तुर्की की कार्रवाई डी-आईएसआईएस (आईएसआईएस को मात देने) के अभियान को नुकसान पहुंचा रही है। आम लोगों की जान को खतरे में डाल रही है और क्षेत्र में सुरक्षा को खतरा पहुंचा रही है।’

माइक पॉम्पियो ने भी दी तुर्की को चेतावनी

तुर्की के अभियान जारी रखने पर बेहद सख्त टिप्पणी करते हुए माइक पॉम्पियो ने कहा कि यह संभावित विनाशकारी परिणामों के साथ एक बड़े और कठिन मानवीय संकट को जन्म देगा। पॉम्पियो ने तुर्की से उत्तर-पूर्वी सीरिया में अपनी एकतरफा कार्रवाई तत्काल रोकने की मांग की। साथ ही सुरक्षा के बारे में अमेरिका के साथ बातचीत वापस शुरू करने को कहा। बता दें कि तुर्की-कुर्द लड़ाकों की अगुवाई वाले सीरियाई लोकतांत्रिक बलों (एसडीएफ) को निशाना बना रहा है जो इस्लामिक स्टेट समूह को हराने के 5 साल के अभियान में अमेरिका का प्रमुख सहयोगी रहा है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: