Jan Sandesh Online hindi news website

HYDERABAD T-20 : भारत को मिली विराट की धमाकेदार पारी से जीत, इंडीज को हराया 6 विकेट से

0

हैदराबाद। कप्तान विराट कोहली (नाबाद 94) की बेहतरीन तूफानी पारी के दम पर भारत ने यहां राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में खेले गए पहले टी-20 मैच में विंडीज द्वारा रखे गए 208 रनों के विशाल लक्ष्य को आसान साबित कर छह विकेट से जीत दर्ज की। भारत की इस जीत में कोहली के अलावा लोकेश राहुल ने भी 62 रनों का योगदान दिया। कोहली का यह टी-20 में सर्वोच्च स्कोर भी है। इस जीत के साथ ही भारत ने तीन मैचों की टी-20 सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली है। यह भारत द्वारा टी-20 में हासिल किया गया अभी तक का सबसे बड़ा लक्ष्य है।

इस मैच में 27 छक्के लगे जो किसी भी टी-20 अंतर्राष्ट्रीय में एक मैच में लगाए गए सबसे ज्यादा छक्के हैं। कोहली की इस पारी ने शिमरन हेटमायेर (56), एविन लुइस (40) और विंडीज के कप्तान केरन पोलार्ड (39) की मेहनत पर पानी फेर दिया।

और पढ़ें
1 of 169

विंडीज ने भारत को विशाल लक्ष्य दिया और रोहित शर्मा (8) के 30 के कुल स्कोर पर आउट होने के बाद लगा कि भारत के लिए यह जीत मुश्किल हो सकती है, लेकिन राहुल और कोहली ने इसे अपनी बल्लेबाजी से आसान बना दिया।

दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 100 रनों की साझेदारी की। राहुल को खैरी पिएरे ने 130 के कुल स्कोर पर केरन पोलार्ड के हाथों कैच कराया। सलामी बल्लेबाज ने 40 गेंदों की अपनी पारी में चार छक्के और पांच चौके लगाए।

राहुल के बाद कोहली ने बागडोर अपने हाथों में ली और विंडीज के हर गेंदबाज को सीमारेखा दिखा भारत को जीत दिलाई। उन्होंने अपनी पारी में 50 गेंदों पर छह चौके और छह छक्के लगाए। ऋषभ पंत ने नौ गेंदों पर दो छक्कों की मदद से 18 रन बनाए। श्रेयस अय्यर ने छह गेंदों पर चार रन बनाए। शिवम दुबे मैदान पर उतरे लेकिन वह एक भी गेंद खेले बिना वापस लौटे।

कोहली की पारी शानदार इसलिए और रही क्योंकि उन्होंने पहली 20 गेंदों पर सिर्फ 20 रन बनाए थे लेकिन इसके बाद खेली गई 30 गेंदों पर वह 74 रन जड़ गए।

इससे पहले, कोहली ने टॉस जीतकर विंडीज को पहले बल्लेबाजी के लिए बुलाया। मेहमान टीम ने 20 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 207 रनों का स्कोर बोर्ड पर टांग दिया। हेटमायेर, लुइस और पोलार्ड के अलावा अंत में जेसन होल्डर की नौ गेंदों पर 24 रनों की पारी ने भी विंडीज को 200 पार ले जाने में बड़ा रोल अदा किया।

दीपक चहर ने दूसरे ओवर में ही लेंडल सिमंस (2) को आउट कर भारत को पहली सफलता दिलाई और लगा कि भारतीय गेंदबाज कप्तान के फैसले को सही साबित कर मेहमान टीम को बड़ा स्कोर नहीं करने देंगे।

लेकिन, दूसरे सलामी बल्लेबाज लुइस और ब्रेंडन किंग ने दूसरे विकेट के लिए 51 रनों की साझेदारी कर भारत के मंसूबों को पूरा नहीं होने दिया। लुइस ने 17 गेंदों की पारी में चार छक्के और तीन चौकों की मदद से ताबड़तोड़ 40 रन बनाए। लुइस के रूप में विंडीज ने अपना दूसरा विकेट खोया। 64 के कुल स्कोर पर वॉशिंगटन सुंदर ने उनको आउट किया।

टीम को सौ का आंकड़ा पार कराने के बाद किंग, रवींद्र जडेजा की गेंद पर पंत द्वारा स्टम्पिंग कर दिए गए। उन्होंने 23 गेंदों पर 31 रन बनाए।

यहां से हेटमायरे और पोलार्ड ने मोर्चा संभाला। दोनों ने अपने अंदाज के मुताबिक तेजी से रन बटोरे। लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने 18वें ओवर में इन दोनों को आउट कर भारत को थोड़ी राहत दी। इन दोनों ने चौथे विकेट के लिए 71 रनों की साझेदारी की।

इसी के साथ चहल ने टी-20 क्रिकेट में भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन की बराबरी कर ली। चहल ने 35 मैचों में 52 विकेट लिए हैं जबकि अश्विन के नाम 46 मैचों में 52 विकेट हैं।

हेटमायेर ने 41 गेंदों पर दो चौके और चार छक्कों की मदद से 56 रन बनाए। वहीं पोलार्ड ने 19 गेंदों पर चार छक्के और एक चौके की सहायता से 39 रनों का योगदान दिया।

भारत को यहां राहत नहीं मिली क्योंकि होल्डर ने इन दोनों के बचे काम को चौकों और छक्कों से अंजाम दिया। होल्डर ने अपनी पारी में दो छक्के और एक चौका लागया। उनके साथ दिनेश रामदीन सात गेंदों पर एक चौका लगाकर 11 रन बनाकर नाबाद रहे।

भारत के लिए चहल ने दो विकेट लिए। सुंदर, जडेजा, चहर के हिस्से एक-एक सफलता आई।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.