Jan Sandesh Online hindi news website

अजमेर दरगाह दीवान ने सेना प्रमुख के बयान का किया स्वागत, कहा-POK हमारा है और हमारा ही रहेगा

0

जयपुर। अजमेर दरगाह के दीवान सैयद जैनुल आबेदीन अली खान ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर पर सेना प्रमुख एम.एम. नरवाने द्वारा की गई टिप्पणी का खुलकर स्वागत किया है। दीवान ने साथ ही भारत सरकार से अपील की है कि पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के भारत में विलय करने के लिए जो भी उचित कदम है, वह भारतीय सेना उठाए, इसके लिए भारतीय सेना को निर्देश दिए जाएं।

सोशल मीडिया पर दीवान का यह वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में वह कहते दिखाई दे रहे हैं कि, “प्रत्येक जाति और पंथ से हर कोई भारतीय सेना के साथ खड़ा है। पीओके हमेशा से ही भारत का हिस्सा रहा है.. यहां तक कि 1948 से लेकर अभी तक भी और भविष्य में भी यह भारत का ही रहेगा।”

और पढ़ें
1 of 1,310

जनरल नरवाने ने शनिवार को अपने हाल ही के साक्षात्कार में कहा था कि यदि संसद चाहे, तो भारतीय सेना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को भारत में मिलाने के लिए पूरी तरह से तैयार है। इसके बाद अब रविवार को अजमेर दरगाह के दीवान की ओर से यह बयान आया है।

वीडियो में दीवान कहते हैं कि, “यदि भारतीय सेना तैयार है तो हम किस बात का इंतजार कर रहे हैं? मैं भारतीय सेना प्रमुख के बयान से अभिभूत हूं।”

उन्होंने कहा, “भारत सरकार को चाहिए कि 1994 में पास हुए प्रस्ताव पर कार्य करें, जिसमें कहा गया है कि पीओके का कश्मीर के साथ विलय कराया जाएगा।”

दीवान सैयद जैनुल आबेदीन अली खान ने कहा कि, “मैं भारत सरकार से दरख्वास्त करता हूं कि पीओके को भारत में विलय कराने के लिए जो भी उचित कदम है, वह भारतीय सेना उठा सके इसके लिए भारतीय सेना को निर्देश दिए जाएं। ताकि इसे भारत के लोगों को अखंड कश्मीर के रूप में उपहार में दिया जा सके।”

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.