Jan Sandesh Online hindi news website

सपा कार्यकर्ताओं ने जयसिंह प्रताप यादव के नेतृत्व में राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन एस. डी. एम. को सौंप

0

रिपोर्ट:सैय्यद मकसूदुल हसन

और पढ़ें
1 of 429

अमेठी। सोमवार को स्थानीय सपा कार्यकर्ताओं ने सपा छात्र सभा के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य जयसिंह प्रताप यादव के नेतृत्व में राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन उपजिलाधिकारी अमेठी को सौंपकर कार्यवाही की मांग की ।उपजिलाधिकारी को सौंपे ज्ञापन में सपा कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के प्रदेश की सत्ता संभालने के साथ ही प्रदेश में भय व अराजकता का माहौल शुरू हो गया था जो अब चरम पर पहुंच रहा है ।यहाँ तक कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की सुरक्षा व्यवस्था खतरे में है ।इसके साथ ही प्रदेश में बलात्कार व अपराध की घटनाएं दिनोदिन बढ़ती जा रही है। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओ ने महामहिम राष्ट्रपति महोदय को संबोधित उपजिलाधिकारी को दिए ज्ञापन में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की सुरक्षा बढ़ाने के साथ ही सोशल मीडिया पर उनके प्रति अपमानजनक भाषा का प्रयोग करने वालों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की मांग करते हुए। देश में जाति जनगणना के आधार पर समाज के सभी वर्गों को समस्त सेवाओं में आरक्षण प्रदान किया जाए व ओबीसी की जातिगत जनगणना कराई जाय।सपा नेताओं ने कहा कि बढ़ती बेरोजगारी को देखते हुए बेरोजगार नौजवानों को रोजगार उपलब्ध कराया जाए जिससे सब को समान प्रतिनिधित्व मिल सके । देश व प्रदेश में लगातार बढ़ रही कमरतोड़ महंगाई से आम आदमी के सामने रोजी रोटी की उत्पन्न समस्या से निजात दिलाने के लिए ठोस कदम उठाकर बढ़ती महंगाई पर अंकुश लगाने की मांग की है। किसानों की समस्याओं जैसे खाद बिजली पानी डीजल पेट्रोल का दाम हटाते हुए आवारा पशुओं से निजात दिलाई जाए तथा आवारा पशुओं से बर्बाद हुई फसलों को लागत के हिसाब से तत्काल प्रभाव से किसानों को मुआवजा दिलाने वCAA,NRC जैसे काले कानून को वापस लिया जाए का अनुरोध किया है।इसके अतिरिक्त समस्त छात्र-छात्राओं की छात्रवृत्ति जल्द दिलाई जाए जिससे उनका अध्ययन अध्यापन कार्य बाधित ना हो ।सपा नेता ने सरकार से बदले की भावना से सपा कार्यकर्ताओं के उत्पीड़न को बन्द कराया जाने की मांग की। प्रदेश व देश में व्याप्त अराजकता जंगलराज व महिलाओं के साथ लगातार हो रहे यौन उत्पीड़न हो व निर्मम हत्या पर रोक लगाकर बिगड़ती कानून व्यवस्था पर अंकुश लगाया जाए ।

You might also like
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.