Jan Sandesh Online hindi news website

इलेक्ट्रिक पैनल में लगी आग के 24 घंटे बाद लाइट तो आई पर नहीं चल रहे आरओ, गीजर व फ्रिज

0

ग्रेटर नोएडा: एलिगेंट विले सोसायटी में सोमवार दोपहर इलेक्ट्रिक पैनल में लगी आग को 24 घंटे से ज्यादा बीत जाने के बाद भी कोई एक्शन नहीं लिया गया है। अब घरों में लाइट तो आ रही है, लेकिन टीवी, फ्रिज, आरओ, गीजर और वॉशिंग मशीन नहीं चल रहे हैं। साथ ही इंटरकॉम और नेट भी काम नहीं कर रहा है। बेसिक चीजें न चलने से महिलाओं को दिक्कत हो रही है। इस संबंध में निवासियों ने पीएमओ, ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी, बिसरख एसएचओ और डीएम को पत्र लिखा है। लोगों का आरोप है कि 24 घंटे से अधिक होने के बाद भी बिल्डर कुछ भी कराने को तैयार नहीं है। इसके साथ ही वह रेजिडेंट्स को मिलने के लिए समय नहीं दे रहा है।

सोमवार दोपहर 1 बजे एलिगेंट विले सोसायटी में 14वें फ्लोर पर इलेक्ट्रिक पैनल में अचनाक आग लग गई। आग इतनी भयानक थी कि इस फ्लोर पर रह रहे लोग, बच्चे और बुजुर्ग सभी घबरा गए थे। आग लगने की सूचना के बाद आसपास के टावर में रहने वाले लोगों की मदद से यहां फंसे परिवारों को निकाला गया। थोड़ी ही देर में आग ने 8 से लेकर 18वें फ्लोर तक लगे इलेक्ट्रॉनिक पैनलों को अपनी चपेट में ले लिया।

और पढ़ें
1 of 1,659

संतोष झा ने बताया कि घटना के बाद से टावर में रह रहा हरेक शख्स डरा हुआ है। बिल्डर ने टावर में कामचलाऊ तरीके से तार डालकर बिजली की सुविधा की है। इसके साथ ही इंटरकॉम और नेट के तार जलने से परेशानी हो रही है। उन्होंने कहा कि पूरी तरह से चीजें कब पटरी पर आएंगी, इसका निवासियों को कुछ पता नहीं है। इंटरकॉम और नेट की व्यवस्था करने वाले शख्स का कहना है कि सभी चीजों को सही करने में एक सप्ताह का समय लगेगा।

क्या कहना है कि टॉवर के लोगों का

डी टॉवर की निवासी अर्चना ने बताया कि वे एक निजी कंपनी के लिए घर से ही काम करती है। फ्लैट में लाइट और नेट न चलने की वजह से ऑफिस से छुट्टी लेने के लिए मेल भेजा है। साथ ही घरेलू में यूज होने वाली चीजे भी बंद पड़ी है। जिसकी वजह से काफी दिक्कत हो रही है। बच्चों की पढ़ाई पर भी असर पड रहा है। पुलिस प्रशासन को बायर्स की समस्या को देखते हुए कारवाई करनी चाहिए। अर्चना, निवासी, डी टावर

मैं घर पर बच्चों को डांस की ट्रेंनिग देती है। घटना के बाद से घरेलू कामों के साथ ही अकैडमी के काम में दिक्कत हो रही है। घर में सिर्फ लाइट जल रही है। आरओ, टीवी, फ्रिज और वॉशिंग मशीन सब बंद हैं। घटना के बाद भी बिल्डर लोगों की समस्या सुनने को तैयार नहीं है। -शांति पांडेय

14वें फ्लोर पर आग लगने के बाद से बहु और बच्चे घबराए हुए हैं। उन्हें घर से बाहर निकलने में डर लग रहा है। लाखों का फ्लैट लेने के बाद भी सुविधाएं नहीं मिल रही हैं। सोसायटी में आग बुझाने के इंतजाम नहीं हैं। प्रशासन और पुलिस को बायर्स की समस्या को देखना चाहिए। मिथिलेश अग्रवाल

बिल्डर ने नहीं ली है एनओसी : सोसायटी में अग्निशमन उपकरणों का अभाव दिखा। एक भी जगह फायर सिस्टम लगे नहीं दिखे। बिल्डर ने बिना रजिस्ट्री के ही लोगों को कब्जा दे दिया है। साथ ही ग्रेनो अथॉरिटी से ओसी और सीसी नहीं लिए गए हैं। बिल्डर की लापरवाही से भी लोग परेशान हैं।

You might also like
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.