Jan Sandesh Online hindi news website

खेलों को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार की ओर से किए जा रहे हैं अनेक सकारात्मक प्रयास: किरण रिजिजू

0

पंचकूला। केन्द्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने कहा है कि प्रधानमंत्री की सोच के अनुसार 8 साल बाद अमेरिका के लॉस एंजेलिस में आयोजित होने वाले आगामी ओलम्पिक खेलों में भारत महाशक्ति बनकर उभरें और टॉप टेन में स्थान लेकर आए। इसके लिए भारत सरकार की ओर से निरंतर खेलों को बढ़ावा देने हेतू अनेक सकारात्मक प्रयास किए जा रहे हैं।

केन्द्रीय खेल मंत्री आईटीबीपी द्वारा गांव भानु के बेसिक प्रशिक्षण केन्द्र में आयोजित 68वीं ऑल इंडिया पुलिस एथलेटिक्स चैम्पियनशीप के शुभारम्भ अवसर पर देशभर से आए पुलिस खिलाड़ियों को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर हरियाणा खेल राज्य मंत्री संदीप सिंह भी मौजूद थे।

केन्द्रीय खेल मंत्री ने कहा कि इस बेसिक प्रशिक्षण केन्द्र में 5 साल बाद आने का मौका मिला जिसके लिए वे स्वयं को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि स्पोर्टस क्लचर को बढ़ावा देने में सिक्योरिटी फोर्स का अहम योगदान है और वर्तमान में खेलों का स्तर बढ़ रहा है। सेंट्रल आर्म्ड फोर्स ने देश का नाम ऊंचा किया है और अब शीघ्र ही भारत खेल क्षेत्र में विश्व महाशक्ति बनने जा रहा है। इसलिए खेलो इंडिया कार्यक्रम के तहत कई प्रकार के खेलों का आयोजन किया जा रहा है।

केन्द्रीय खेल मंत्री ने कहा कि हाल ही में कश्मीर एवं लद्दाख राज्यों में भी खेलों का आयोजन किया गया। उनका प्रयास है कि भारत सरकार द्वारा संचालित देश भर में 284 साई के एक्सटेंशन सेंटरों को राज्य सरकारें अपने स्तर पर चलाएं और इनमें खिलाड़ियों को ओर ज्यादा सुविधाएं प्रदान करें। इन केन्द्रों को राज्यों की पुलिस भी लेकर चला सकती है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकारें चाहें तो नेशनल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस में युवाओं को भर्ती करने का कार्य कर सकती है जिससे खेलों में नई संस्कृति की बनेगी। इसके अलावा इंटरगेम, वाटर स्पोर्टस एवं स्नो स्पोर्टस में भी अनेक प्रकार की सम्भावनाएं है, सरकार ने उन्हें बढाने का भी निर्णय लिया है।

और पढ़ें
1 of 191

उन्होंने कहा कि देश की 70 प्रतिशत आबादी खेलों में भाग नहीं लेती और न कोई शारीरिक अभ्यास करती है। उनके लिए फिट इंडिया मूवमेंट कार्यक्रम लॉन्च किया है। इस कार्यक्रम से बहुत बड़ा बदलाव आएगा और लोगों का स्वास्थ्य भी तंदरूस्त रहेगा। उन्होंने कहा कि यदि देश का हर नागरिक स्वस्थ होगा तो देश तरक्की की ओर अग्रसर होगें और खुशहाली आएगी। उन्होंने कहा कि आईटीबीपी ने एथलेटिक्स खेलों का आयोजन करवाकर बड़ा ही सराहनीय कार्य किया है। एथलेटिक्स इंवेंटस में कई तरह की प्रयोगिताएं होती है जिन्हें करवाने में कई चुनौतियां भी होती है।

आईटीबीपी के डीजी सुरजीत सिंह देशवाल ने कहा कि लगातार 7 मार्च तक आयोजित होने वाली इस एथलेटिक्स चैम्पियनशीप में देशभर के 31 राज्यों से 3700 से अधिक खिलाड़ी भाग ले रहे हैं, जो देश में अनुशासन के साथ अपनी कौशलता का परिचय देते हुए बेहतर नागरिक भी साबित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि फोर्सिस एवं पुलिस में राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी तैयार किए जा रहे है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताओं में भाग लेने से समस्त देश की पुलिस एकत्र होकर समुचित एकता को प्रदर्शित करती है। उन्होंने बेहतर प्रबंधन के लिए आईटीबीपी की सराहना की।

कार्यक्रम में महानिरीक्षक मनोज रावत, महानिरीक्षक प्रशिक्षण ईश्वर दून, सचिव शशी भूषण सहित भारी संख्या में पुलिस फोर्स के अधिकारी एवं जंवान मौजूद थे।

You might also like
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: