Jan Sandesh Online hindi news website

फरवरी में घटकर 2.26 फीसदी थोक महंगाई दर

0
Share

नई दिल्ली। थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) पर आधारित भारत की वार्षिक मुद्रास्फीति दर फरवरी में घटकर 2.26 प्रतिशत रह गई। यह जनवरी में 3.10 प्रतिशत थी। आधिकारिक आंकड़ों से सोमवार को यह जानकारी सामने आई है। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय द्वारा जारी सालाना थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) के आंकड़ों के अनुसार, पिछले साल 2019 फरवरी के मुकाबले इस वर्ष फरवरी में थोक महंगाई दर में कमी आई है। पिछले साल 2019 में फरवरी में थोक मूल्य आधारित मुद्रास्फीति 2.93 प्रतिशत दर्ज की गई थी।

और पढ़ें
1 of 162

फरवरी माह के लिए ‘भारत में थोक मूल्य सूचकांक सूची’ के अपने रिव्यू में मंत्रालय ने कहा, “पिछले वर्ष की इसी अवधि में 2.75 प्रतिशत की निर्मित दर की तुलना में वित्तीय वर्ष में अब तक मुद्रास्फीति की दर का निर्माण 1.92 प्रतिशत रहा।”

खाद्य वस्तुओं, खासतौर से प्याज और अन्य सब्जियों के दाम घटने के कारण बीते महीने थोक महंगाई दर में कमी आई है।

खाद्य वस्तुओं के समूह का सूचकांक पिछले महीने के 160.8 से 3.7 फीसदी घटकर फरीवरी में 154.9 पर आ गया। फलों, सब्जियों, चाय, अंडे और मक्का समेत अन्य अनाजों के दाम में नरमी रहने के कारण खाद्य वस्तुओं के समूह के सूचकांक गिरावट दर्ज की गई।

You might also like
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।
%d bloggers like this: