Jan Sandesh Online hindi news website

डेटा की खपत बढ़ी, इंटरनेट की स्पीड 20% तक घट गई !

0
Share

एक स्टडी के अनुसार इस बीच वीडियो देखने में करीब 30 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। इससे इंटरनेट स्पीड में लगभग 20 फीसदी तक की गिरावट आई है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि चूंकि लॉकडाउन अभी चलने वाला है, इसलिए इंटरनेट स्पीड में 25 से 30 फीसदी तक और अधिक गिरावट आ सकती है। कोरोना वायरस की वजह से पूरे देश में लॉकडाउन लागू है। ऐसे में घरों पर रहने वाले लोग मोबाइल और होम ब्रॉडबैंड सर्विसेज का ज्यादा इस्तेमाल कर रहे हैं। कंपनियों का कहना है कि इससे इंटरनेट स्पीड काफी घटी है।

और पढ़ें
1 of 162

लॉकडाउन के बाद से डेटा खपत में 30% तक बढ़ोतरी
इंटरनेट सर्विसेज प्रोवाइडर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (ISPAI) के अध्यक्ष राजेश छारिया ने कहा, ‘अगले कुछ हफ्तों में डेटा के इस्तेमाल में और अधिक बढ़ोतरी हो सकती है। यह इजाफा लॉकडाउन जारी रहने तक होगा।’ एसोशिएशन का कहना है कि बेंगलुरु और हैदराबाद जैसे शहरों में लॉकडाउन के बाद से ही इंटरनेट डेटा कंजम्पशन में लगभग 70 फीसदी तक की बढ़ोतरी देखी गई है। सेल्युलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (COAI) का अनुमान है कि लॉकडाउन के बाद से अब तक इंटरनेट डेटा खपत में करीब 30% तक बढ़ोतरी हुई है।

एसोसिएशन ने इंटरनेट यूजर्स से इंटरनेट डेटा का जिम्मेदारी के साथ उपयोग करने की अपील की है ताकि डेटा कंजेशन की इस नई चुनौती का सामना किया जा सके, खासकर सुबह के 9 बजे से 11 बजे के बीच और शाम 4 बजे से रात 9 बजे तक के बीच के पीक आवर्स में। इससे इंटरनेट प्रोवाइडर्स के नेटवर्क पर दबाव कम होगा और जरूरतमंदों को ठीक-ठाक स्पीड मिलती रहेगी।

भारत में फिलहाल करीब 68.76 करोड़ इंटरनेट यूजर हैं। इनमें केवल 2.23 करोड़ यूजर ही वायर्ड ब्रॉडबैंड का उपयोग करते हैं। बाकी बचे लगभग 66.5 करोड़ यूजर मोबाइल और वायरलेस नेटवर्क पर निर्भर हैं। कोरोना वायरस का प्रसार रोकने के लिए देशभर में 25 मार्च से लॉकडाउन जारी है। इसके कारण वर्क फ्रॉम होम, दूरस्थ शिक्षा, एंटरटेनमेंट सभी के लिए लोग या तो ब्रॉडबैंड कनेक्शन पर निर्भर हैं या मोबाइल पर।

30 फीसदी और घट सकती है इंटरनेट स्पीड
इंडस्ट्री के विश्लेषक राजीव शर्मा का कहना है, ‘बीते दो हफ्तों में रेजिडेंशियल एरिया से काम करने वाले यूजर्स की संख्या में तीन गुना तक बढ़ोतरी हुई है, जिसके कारण औसत डाउनलोड स्पीड में करीब 20 प्रतिशत तक गिरावट आई है। फिलहाल यह 9 से 10Mbps के बीच रहेगी, लेकिन अगर ऐसी स्थिति और एक महीने तक जारी रही तो इसमें और 25 से 30 प्रतिशत तक गिरावट आ सकती है।’

You might also like
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।
%d bloggers like this: