Jan Sandesh Online hindi news website

PM Modi Video Massage : मोदी ने 5 अप्रैल को रात 9 बजे देश से मांगे 9 मिनट, सभी लाइट बंद कर जलाएं दीये, मोमबत्ती या टॉर्च

Share
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम जारी अपने वीडियो मेसेज में देशवासियों से 5 अप्रैल, रविवार को रात नौ बजे घरों सारी बत्तियां बुझाकर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दिया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाने का आग्रह किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को एक बार फिर देश की जनता का [...]
0
Share

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम जारी अपने वीडियो मेसेज में देशवासियों से 5 अप्रैल, रविवार को रात नौ बजे घरों सारी बत्तियां बुझाकर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दिया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाने का आग्रह किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को एक बार फिर देश की जनता का उत्साह बढ़ाया। उन्होंने वीडियो संदेश के माध्‍यम से देश की जनता को संबोधित किया।

और पढ़ें
1 of 1,236

अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस से जारी इस जंग में पूरे देश का साथ मिल रहा है। इस लड़ाई में सभी मिलकर कोरोना के संकट को चुनौती दे रहे हैं। कोरोना के संकट को भारत के लोग अपने प्रकाश की ताकत का आभास करा रहे हैं । पीएम मोदी ने देशवासियों से अपील करते हुए कहा है कि सभी लोग पांच अप्रैल को रात नौ बजे कुछ देर के लिए अपने घर की लाइट बुझा कर दिये जलाएं । इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें ।

आगे प्रधानमंत्री ने वीडियो संदेश में कहा कि हमें कोरोना वायरस से पैदा हुए अंधकार से प्रकाश की ओर बढ़ना होगा। रविवार पांच अप्रैल को रात नौ बजे नौ मिनट के लिए सभी लाइटें बंद करें और मोमबत्तियां, दीये, टॉर्च या मोबाइल फोन की फ्लैशलाइट जलाएं । उन्होंने कहा कि हम लॉकडाउन के दौरान घर में हैं लेकिन हम अकेले नहीं है क्योंकि पूरे देश की सामूहिक ताकत हममें से प्रत्येक के साथ है।

आगे उन्होंने कहा कि लोगों ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लगाए लॉकडाउन के दौरान अभूतपूर्व अनुशासन और सेवा भाव दिखाया. लॉकडाउन पर मोदी बोले कि लोगों के मन में सवाल आते होंगे कि कितने दिन ऐसे और काटने होंगे। लेकिन कोई अकेला नहीं है. सब एक दूसरा की शक्ति बढ़ा रहे. उन्होंने कहा कि जनता रूपी महाशक्ति से बातचीत करते रहना चाहिए, इससे मनोबल मिलता है, इससे मार्ग ज्यादा स्पष्ट होता है।

पीएम मोदी ने संबोधन के दौरान संस्कृत के श्लोक का उद्धरण करते हुए कहा, उत्साहो बलवान् आर्य, न अस्ति उत्साह परम् बलम्. स उत्साहस्य लोकेषु, न किंचित् अपि दुर्लभम्. यानि, हमारे उत्साह, हमारी आत्मा से बड़ी ताकत दुनिया में कोई दूसरी नहीं है.

सीएम के साथ बैठक- आपको बता दें कि पीएम मोदी ने गुरूवार को सभी राज्यों के मुख्‍यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्‍यम से बातचीत की थी, जिसके बाद माना जा रहा था कि पीएम मोदी कोई बड़ी घोषणा कर सकते हैं. हालांकि आज के उनके संबोधन में केवल जनता के मनोबल को ऊंचा करने का संदेश मिला.

You might also like
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।
%d bloggers like this: