Jan Sandesh Online hindi news website

अमेरिका ने यहां के राष्ट्रपति पर घोषित किया है डेढ़ करोड़ का इनाम !

Share

वेनेजुएला के राष्‍ट्रपति न‍िकोलस मादुरो (Nicolas Maduro) ने देशभर में तोपे तैनात करने का आदेश द‍िया है। उन्‍होंने दुनिया के नेताओं से मदद की गुहार भी लगाई है। मादुरो को डर सता रहा है क‍ि अमेर‍िका (America) उन पर कार्रवाई कर सकता है।

0
Share

`कराकस। वेनेजुएला के राष्‍ट्रपति पर अमेरिका (America) के इनाम घोषित करने के बाद यह लैटिन अमेरिकी देश अब किसी भी संभावित हमले की सूरत में जवाबी हमले की तैयारी में जुट गया है। वेनेजुएला के राष्‍ट्रपति निकोलस मादुरो (Nicolas Maduro) ने ऐलान किया है कि उन्‍होंने देशभर में तोपें तैनात करने का आदेश दिया है। मादुरो ने कहा कि उन्‍होंने देश के लोगों की रक्षा के लिए यह आदेश दिया है।

और पढ़ें
1 of 378

दरअसल, मादुरो ने यह फैसला ऐसे समय पर लिया है जब अमेरिका ने मादक पदार्थों की तस्‍करी के आरोप में उन पर डेढ़ करोड़ डॉलर का इनाम घोषित किया है। मादुरो ने ट्वीट कर कहा कि मैंने देश के नागरिकों की सुरक्षा के लिए रणनीतिक रूप से महत्‍वपूर्ण इलाकों में तोपें तैनात करने का आदेश दिया है। उन्‍होंने कहा, ‘मैं कोलंबिया और अमेरिका से पोषित समूहों की निंदा करता हूं जो हिंसात्‍मक कार्रवाई के जरिए हमारे देश की स्थिरता को कमजोर करना चाहते हैं।’

राष्‍ट्रपति मादुरो को सता रहा है बड़ा डर
इससे पहले मंगलवार को मादुरो ने दुनियाभर के नेताओं को संबोधित करते हुए अनुरोध किया कि वे उनकी सहायता करें। मादुरो को यह डर सता रहा है कि अमेरिका उन्‍हें गिरफ्तार करने के लिए कार्रवाई कर सकता है। मादुरो ने कहा कि अमेरिका का ड्रग्‍स की तस्‍करी का आरोप झूठा है और उसके पास कोई सबूत नहीं है। इससे पहले अमेरिका ने ऐलान किया था कि वह मादक पदार्थों की तस्करी के मामले में वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो की गिरफ्तारी लायक सूचना देने वाले को 1.5 करोड़ डॉलर का इनाम देगा।

इसकी घोषणा गुरुवार को खुद अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने की थी। पोम्पियो ने पुरस्कार की घोषणा न्याय विभाग द्वारा मादुरो के खिलाफ मामले के खुलासे के बाद की। न्‍याय विभाग ने मादुरो के नाम का उल्लेख एक राष्‍ट्रपति के रूप में किया है न कि एक सामान्य अपराधी के रूप में। अमेरिका वेनेजुएला के विपक्षी नेता जुआन गुएडो को सत्तारूढ़ होने में मदद कर रहा है।

नार्को टेररिज्म’ के लिए दोषी ठहराया
इससे पहले गुरुवार को अमेरिकी सरकार ने वेनेजुएला के राष्‍ट्रपति निकोलस मादुरो और अन्‍य अधिकारियों को ‘नार्को टेररिज्म’ के लिए दोषी ठहराया था। माना जा रहा है कि मादुरो प्रशासन पर दबाव बनाने के लिए अमेरिका ने यह कदम उठाया है। राष्‍ट्रपति मादुरो वर्ष 2013 से सत्‍ता में बने हुए हैं। अमेरिका का आरोप है कि मादुरो कोलंबिया के गुरिल्‍ला समूह फार्क के साथ मिलकर साजिश रच रहे हैं।

अमेर‍िकी सरकार के मुताबिक फार्क अमेरिका में कोकीन की बड़े पैमाने पर तस्‍करी कर रहा है। किसी राष्‍ट्राध्‍यक्ष की गिरफ्तारी पर इनाम घोषित करना अपने आप में एक दुर्लभ घटना है। बताया जा रहा है कि अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप वेनेजुएला की नीति की सफलता को लेकर नाखुश हैं। अमेरिका और कई अन्‍य देशों ने वेनेजुएला के विपक्ष के नेता जुआन गुआइडो को वैधानिक राष्‍ट्रपति घोषित किया है। हालांकि मादुरो अभी सत्‍ता में बने हुए हैं और उन्‍हें देश की सेना, रूस, चीन और क्‍यूबा का समर्थन हासिल है।

You might also like
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।
%d bloggers like this: