Jan Sandesh Online hindi news website

UP के कुशीनगर में पुलिस ने पांच महिलाओं को पकड़ा, निमामुद्दीन मरकज में हुई थीं शामिल

0

कुशीनगर। दिल्‍ली के निमामुद्दीन मरकज (Tablighi Jamat) में महिलाएं भी शामिल हुई थीं। खुफ‍ियों एजेंसियों से इनपुट मिलने के बाद कुशीनगर में खोजबीन की गई तो पुलिस को पांच ऐसी महिलाएं मिलीं जो मरकज में शामिल होने दिल्‍ली गई थीं। पुलिस ने इन्‍हें पकड़कर कर जिला अस्‍पताल भेज दिया जहां इन्‍हें क्वारंटाइन किया गया है। इन महिलाओं के पति भी निजामुद्दीन मरकज में भाग ले चुके हैं।

कुशीनगर पुलिस ने सोमवार देर रात नगर से सटे गांव अमवा जंगल में उसी मकान से इन महिलाओं को पकड़ा जहां दो दिन पूर्व दो जमाती पकड़े गए थे। पूछताछ में इनकी पहचान पकड़े गए जमातियों की पत्नी के रूप में हुई। पुलिस ने इस मामले में दर्ज मुकदमे में महिलाओं का नाम शामिल कर इन्हें जांच के लिए जिला अस्पताल भेज दिया।

और पढ़ें
1 of 1,112

रविवार व सोमवार को कुशीनगर में अलग-अलग जगहों से दिल्ली के निजामुद्दीन के मरकज से लौटे कुल पांच जमाती पकड़े गए। इनके साथ महिलाओं के आने की जानकारी पर पुलिस-प्रशासन ने संभावित स्थानों पर उनकी तलाश शुरू कर दी। देर रात कोतवाली पुलिस ने इसमें सफलता पा ली। पुलिस ने गांव अमवा जंगल से पांच महिला जमातियों राहिमा खातून निवासी दीवान पाढ़ा बीमारू गुरी जिला नागौन, शाकीना खातून निवासी पेनीगॉन, कछलखुआ जिला नागौन, जाहूरा खातून निवासी कुठाढ़ी जिला नागौन, रजीफा खातून निवासी कुबीर डूबी जिला होजई व एफ खातून निवासी कंडूली मारी जिला नागौन आसाम को पकड़ लिया। पति के पकड़े जाने के बाद ये महिलाएं घरों में छिपकर रह रहीं थीं।

दो दिन पूर्व रविवार रात को पुलिस ने गांव अमवा जंगल स्थित एक मकान में छापेमारी कर हाशिम निवासी नागौन थाना सदर आसाम तथा यशोधर अली निवासी कुमरी डूभी पोस्ट जमूना भूल थाना कामपुर जिला होजई आसाम को पकड़ उन्हें जांच के लिए जिला अस्पताल भेजा था। दोनों मरकज में शामिल होने के बाद हाटा फिर पडरौना पहुंचे थे। पुलिस ने जमातियों व उनके मददगारों सलाउद्दीन, साहिल, खुदाद्दीन निवासी हथिसार मोहल्ला थाना कोतवाली पडरौना तथा शाकिर अली व हाजी हमीद निवासी हाटा थाना कोतवाली हाटा के विरुद्ध धारा 188, 269, 271 आइपीसी व 51 बी आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया था। सोमवार शाम को ही नेबुआ-नौरंगिया थाने के गांव पटेरा बुजुर्ग से भी दो जमाती पकड़े गए। इनकी पहचान अब्दुल सलाम निवासी सालमा बोरी थाना भीम जिला नागौन व फकरूद्दीन निवासी कांदोमली गड़ी झूरिया नौगावां आसाम के रूप में हुई। दोनों ने निजामुद्दीन मरकज में शामिल होने की बात स्वीकार की। दोनों के साथ रहे एक अन्य जमाती ऐनुलहक निवासी नागौन सदर आसाम ने देर शाम पडरौना कोतवाली में पहुंच खुद के मरकज में शामिल होने की जानकारी दी। उसने बताया था कि वह भटक गया है। पुलिस की जांच में पांचों के तार आपस में जुड़े मिले। पता चला कि पांच पुरुष व पांच महिलाएं मरकज में शामिल होने के बाद दिल्ली से कुशीनगर के लिए चले थे।

नोडल अधिकारी एएसपी ने एपी सिंह ने कहा कि पकड़ी गईं महिलाओं की पहचान पूर्व में पकड़े गए जमातियों की पत्नी के रूप में हुई है। यह सब भी दिल्‍ली के निजामुद्दीन मरकज में शामिल हुई थीं और यहां पर छिप कर रह रही थीं। सभी के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पटेरा बुजुर्ग में जमातियों के मददगार रहे रहमतुल्लाह व उनकी पत्नी शकीरूनिशा के विरुद्ध भी मुकदमा दर्ज किया गया है। जमातियों व मददगारों के संपर्क में आए लोगों की तलाश की जा रही है।

एसपी विनोद कुमार मिश्र ने कहा कि पकड़ीं गईं पांच महिलाओं के साथ जिले में मिले जमातियों की संख्या 10 हो गई है। सभी पुरुष व महिलाएं दिल्ली के मरकज में शामिल थे। इससे जुड़े इनपुट के आधार पर पुलिस इनकी तलाश में जुटी थी। सभी पकड़ लिए गए। सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पटेरा बुजुर्ग में जमातियों के मददगार रहे रहमतुल्लाह व उनकी पत्नी शकीरूनिशा के विरुद्ध भी मुकदमा दर्ज किया गया है। जमातियों व मददगारों के संपर्क में आए लोगों की तलाश की जा रही है।

You might also like
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।
0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x
%d bloggers like this: