Jan Sandesh Online hindi news website

शर्मनाक : देश सेवा में जुटी एक महिला डॉक्टर के साथ पड़ोसी ने की बदसलूकी, वीडियो वायरल

सूरत सिविल अस्पताल में तैनात एक महिला डॉक्टर से उसके पड़ोसी ने बदसलूकी की कोविड-19 की सेवा में जुटे डॉक्टरों एवं स्वास्थ्यकर्मियों के साथ वे सहानुभू्ति के साथ पेश आएं इस तरह की घटनाओं पर राज्यों से सख्त कार्रवाई का निर्देश

Share
सूरत । कोविड-19 के खिलाफ जंग में मुस्तैदी से देश सेवा में जुटे डॉक्टरों के साथ बदसलूकी की घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं। अब सूरत से शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है। यहां सूरत सिविल अस्पताल में तैनात एक महिला डॉक्टर से उसके पड़ोसी ने बदसलूकी की है। इस घटना का एक [...]
0
Share

सूरत । कोविड-19 के खिलाफ जंग में मुस्तैदी से देश सेवा में जुटे डॉक्टरों के साथ बदसलूकी की घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं। अब सूरत से शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है। यहां सूरत सिविल अस्पताल में तैनात एक महिला डॉक्टर से उसके पड़ोसी ने बदसलूकी की है। इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है जिसमें डॉक्टर के पड़ोस में रहने वाले व्यक्ति का उग्र व्यवहार देखा जा सकता है। व्यक्ति डॉक्टर के बारे में आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल और शीरीरिक रूप से उन्हें चोट पहुंचाने की कोशिश करता नजर आया है। वीडियो के वायरल होने के बाद लोगों ने इस व्यक्ति के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है।

और पढ़ें
1 of 1,238

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस तरह की घटनाओं पर पहले ही नाराजगी जाहिर कर चुके हैं। उन्होंने इस तरह की घटनाओं पर राज्यों से सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया है। पीएम ने लोगों से अपील की है कि कोविड-19 की सेवा में जुटे डॉक्टरों एवं स्वास्थ्यकर्मियों के साथ वे सहानुभू्ति के साथ पेश आएं। कोविड-19 के खिलाफ देश सेवा में जुटे डॉक्टरों, नर्सों एवं विमान कंपनियों के कर्मचारियों के प्रति पूरे देश 22 मार्च को उनके प्रति अपनी कृतज्ञता जाहिर कर चुका है। पीएम की अपील पर पूरे देश ने ‘जनता कर्फ्यू’ का समर्थन दिया है और ताली, थाली एवं घंटी बजाकर उनका स्वागत किया।

भारत ने हाल के दिनों में दुनिया के अलग-अलग देशों में फंसे अपने नागरिकों को वहां से निकालकर स्वदेश लाया है। इन नागरिकों में ऐसे लोग भी हैं जो कोविड-19 से पॉजिटिव पाए गए। इन लोगों को निगरानी के लिए अस्पतालों एवं क्वरांटाइन केंद्रों में रखा गया जहां डॉक्टर एवं नर्स इनकी देखभाल कर रहे हैं। बीते दिनों विमान कंपनियों के पायलटों एवं एयर होस्टेस को उनके सोसायटी में दाखिल होने से रोका गया। कई जगहों पर डॉक्टरों एवं नर्सों से मकान खाली करने के लिए भी कहा गया।

राजधानी दिल्ली में इस तरह की घटनाएं सामने आईं। लोगों के इस बुरे बर्ताव पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सामने आए और लोगों से देश सेवा में जुटे लोगों के साथ इस तरह का बर्ताव न करने की अपील की। साथ ही उन्होंने राज्य के अधिकारियों एवं सुरक्षा एजेंसियों को इस तरह की घटनाओं पर सख्ती के साथ पेश आने का निर्देश दिया। गत एक अप्रैल को हैदराबाद में कोविड-19 से संक्रमित मरीजों ने डॉक्टरों पर हमला कर दिया। ये मरीज अपने ही परिवार के वायरस से संक्रमित दो सदस्यों की मौत हो जाने के बाद नाराज थे।

You might also like
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।
%d bloggers like this: