Jan Sandesh Online hindi news website

इंदौर : प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव डॉक्टर की मौत, मचा हड़कंप

Share

इंदौर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 213
इंदौर में मृतकों की संख्या 22 पहुंच गई

0
Share

इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर में कोरोना कहर बरपा रहा है। यहां कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 213 पहुंच गई है। इंदौर में भी कई डॉक्टर कोरोना से संक्रमित हैं। शहर में एक संक्रमित डॉक्टर की कोरोना से मौत हुई है। जिले के सीएमएचओ ने इसकी पुष्टि कर दी है। इसके साथ ही इंदौर में मृतकों की संख्या 22 पहुंच गई है। पूरे मध्यप्रदेश में इंदौर में कोरोना से सबसे ज्यादा मौत हुई है।

और पढ़ें
1 of 1,275

स्वास्थ्य विभाग के सीएमएचओ डॉ. प्रवीण जड़िया ने बताया कि डॉ शत्रुधन पंजवानी पिछले दिनों कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे और उनका उपचार पहले गोकुलदास में चल रहा था। उसके बाद सीएचएल और फिर उन्हें अरविंदों में शिफ्ट किया था। उनकी हालत गंभीर बनी हुई थी, आज सुबह उनकी मौत हो गई। डॉक्टर पंचवानी इंदौर के रुपराम नगर में रहते थे।

डॉक्टर की पहली मौत
कोरोना महामारी की वजह से इंदौर को पूरी तरह से सील कर दिया गया। प्रदेश में पहली बार किसी डॉक्टर की मौत कोरोना की वजह से हुई है। डॉक्टर की मौत के बाद इंदौर में स्वास्थ्यकर्मी और एहतियात बरत रहे हैं। कोरोना पीड़ितों के इलाज में लगे डॉक्टर और नर्सिंग स्टॉफों का प्रशासन विशेष ख्याल रख रही है। बताया जा रहा है कि कोरोना मरीजों के इलाज के दौरान ही वह संक्रमित हुए।

इंदौर में 213 मरीज
मध्यप्रदेश में इंदौर में ही कोरोना से सबसे ज्यादा हालत खराब है। बुधवार को भी इंदौर में 40 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इसके साथ ही इंदौर में कोरोना मरीजों की संख्या 213 पहुंच गई। अब तक इंदौर में कुल 22 लोगों की मौत कोरोना से हुई है। इंदौर में हॉट स्पॉट वाले इलाकों की सघन निगरानी की जा रही है।

भोपाल में 50 संक्रमित
इंदौर के बाद राजधानी भोपाल की हालत सबसे ज्यादा खराब है। यहां कोरोना के 94 मरीज मिले हैं। 50 के करीब स्वास्थ्य विभाग के कर्मी और अफसर हैं। बढ़ते खतरे को लेकर सरकार ने सख्त फैसले भी लिए हैं। भोपाल के सीएमएचओ को हटा दिया है। कहा जा रहा है कि धरातल पर वह स्थिति को संभाल नहीं पा रहे थे। अब सरकार ने प्रदेश में एस्मा भी लागू कर दिया है।

You might also like
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।
%d bloggers like this: