Jan Sandesh Online hindi news website

सड़कों पर पड़े 500-2000 रुपये के नोटों को कोरोना से जोड़कर फैलाई दहशत

सड़कों पर पड़े नोट में कुछ शरारती तत्व कोरोना वायरस होने की फैलाई अफवाह

0
Share

नई दिल्ली । जहां पूरा देश कोरोना वायरस के संकट से जूझ रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग वायरस के खौफ में सड़क पर पड़े रुपये को भी उठाने में खौफजदा हैं। ऐसा इसलिए हो रहा है कि सड़कों पर पड़े नोट में कुछ शरारती तत्व कोरोना वायरस होने की अफवाह उड़ाकर दहशत फैलाने का प्रयास कर रहे हैं।

और पढ़ें
1 of 1,236

ऐसी घटनाएं राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित देश के कई राज्यों में बीते तीन-चार दिनों से बढ़ गई है। वहीं नोट में कोरोना होने की अफवाहों पर विराम देने के लिए पुलिस भी हर भरसक प्रयास कर रही है। दिल्ली पुलिस की तरफ से ऐसी अफवाहों से लोगों को बचने की अपील की गई हे। लोगों से अफवाह फैलने पर तत्काल मामले की सूचना पुलिस को देने को कहा गया है।

डीसीपी द्वारका जिला एन्टो अल्फोंस ने बताया कि सेक्टर चार की सड़क पर एक पांच सौ रुपये का नोट पड़ा था। इस नोट को देखने के बाद इलाके के लोग उसमें कोरोना वायरस होने की बात करने लगे।

इस सूचना पर मौके पर पुलिस पहुंच गई और उसने उस नोट को अपने कब्जे में लेकर जांच के लिए भेज दिया है। डीसीपी का कहना है कि शायद किसी के जेब से यह नोट गिर गया था, लेकिन उसे कोरोना वायरस से जोड़कर अफवाह उड़ा दी गई। फिलहाल पूरे मामले की जांच के बाद ही नोट के संबंध में कुछ बताया जा सकता है।

दिल्ली के बुध विहार इलाके में शुक्रवार को ऐसा ही एक मामला सामने आया था, जिसमें एक शख्स इलाके के एक एटीएम से रुपये निकाल कर जा रहा था, तभी अनजाने में उसके रुपये नीचे गिर गए। उसे रुपयों के गिरने का पता ही नहीं चला और वह उन रुपयों को उठाए बिना ऐसे ही चला गया।

उसके बाद आने वाले शख्स ने जमीन पर रुपये गिरे हुए देखे तो इलाके में जमीन पर गिरे 2-2 हज़ार के नोटों में कोरोना होने की अफवाह उड़ गई। अफवाह उड़ने के बाद बाद पुलिस को बुलाया गया।

पुलिस को भी लगा कि हो सकता है नोटों में कोरोना संक्रमण हो, इसलिए पुलिसवाले ने बिना रुपये छुए उसके ऊपर पत्थर रख कर उसे हवा में उड़ने से रोका। हालांकि थोड़ी देर बाद वह शख्स वापस आया और अपने रुपये लेकर चला गया था।

यूपी की राजधानी में उड़ी अफवाह
देश की राजधानी के बाद उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के महानगर स्थित पेपर मिल कॉलोनी में भी पांच-पांच सौ रुपये के नोट सड़क पड़े होने की अफवाह उड़ा दी गई। उस नोट में कोरोना वायरस होने की अफवाह की सूचना पर वहां भीड़ एकत्र हो गई। जिसके बाद पुलिस ने नोट को कब्जे में लेकर उसे लैैब में जांच के लिए भेज दिया है।

वहीं बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के भगवानपुर चौक के पास भी कुछ लोग नोट में कोरोना वायरस होने की अफवाह को बल दे दिया। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने लोगों से ऐसी किसी भी अफवाह पर ध्यान न देने की अपील की है।

पुलिस के सूत्रों का कहना है कि कुछ शरारती तत्व नोट में कोरोना संक्रमण की अफवाह उड़ाकर एक विशेष समुदाय के खिलाफ माहौल खराब करने का प्रयास कर रहे हैं। यह लोग इस अफवाह को सोशल मीडिया पर भी हवा दे रहे हैं। पुलिस की तरफ से ऐसे लोगों की पहचान कर उनपर सख्त कार्रवाई की बात कह रही है।

You might also like
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।
%d bloggers like this: