Jan Sandesh Online hindi news website

नोवेल कोरोना वायरस(कोविड-19) के संक्रमण से बचाव/रोकथाम, राहत एवं चिकित्सा के साथ-साथ साफ-सफाई व सेनेटाइजर, सोशल डिस्टेसिंग पर विशेष ध्यान दिये जा रहें हैं-जिलाधिकारी

0

रिपोर्ट:सैय्यद मकसूदुल हसन

और पढ़ें
1 of 111

सुलतानपुर 24 अप्रैल/जिलाधिकारी सी0 इन्दुमती ने बताया कि वर्तमान में नोवेल कोरोना वायरस(कोविड-19) के संक्रमण से बचाव/रोकथाम हेतु पूरा देश लाॅक डाउन है। इस दौरान मा0 मुख्यमंत्री जी के निर्देशानुसार जनपद में अन्त्योदय/मनरेगा मजदूरों/श्रम विभाग में पंजीकृत श्रमिकों तथा शहरी क्षेत्रों में घुमन्तू प्रवृति के श्रमिकों को डीबीटी के माध्यम से आर्थिक सहायता एवं अन्त्योदय/बी0पी0एल0 कार्ड धारकों को खाद्यान का वितरण किया जा रहा है। जनपद में 23 अप्रैल, 2020 तक श्रम विभाग में पंजीकृत कुल 6171 श्रमिकों में से 5755 व्यक्तियों को 57.55 लाख रू0, शहर में घुमन्तू प्रवृति का कार्य करने वाले 5389 श्रमिकों को 53.89 लाख रू0 ग्रामीण क्षेत्र में ऐसे व्यक्ति जिनके भरण-पोषण की कोई सुविधा नहीं है, का चिन्हीकरण करके कुल 9724 व्यक्तियों को 97.24 लाख रू0 धनराशि डी0बी0टी0 के माध्यम से वितरित करायी जा चुकी है।

 

जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद के समस्त नागरिकों को राशन/सब्जी/दूध आदि का डोर-टू-डोर डिलीवरी सुचारू रूप से कराया जा रहा है। शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में 1,46,209 अन्त्योदय/बी0पी0एल0 कार्डधारकों को निःशुल्क खाद्यान्न वितरण कराया गया। उन्होंने बताया कि मेडिकल क्वारंटाइन में रखे गये कुल 353 में से 239 व्यक्तियों को स्वस्थ्य होने पर डिस्चार्ज किया गया। ग्रामीण क्षेत्रों में 26224 व्यक्तियों एवं शहरी क्षेत्र में 709 व्यक्तियों को होम क्वारंटाइन में रखा गया है। जनपद में विभिन्न स्थलों पर कुल 36 आश्रय स्थल (शेल्टर होम) एवं 36 सामुदायिक रसोई बनाये गये हैं, जिसमें चिकित्सीय/शौंचालय/बिस्तर/सैनिटाइजर/साबुन/भोजन/साफ-सफाई एवं सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए प्रतिपादित किया जा रहा है, जिसमें अब तक 400 व्यक्तियों को आश्रय स्थल में रखा गया है। जिलाधिकारी ने बताया कि 23 अप्रैल, 2020 तक अस्थायी आश्रय स्थलों, आम रसोईघरों एवं अन्य स्थलों पर स्वयं सेवी/धार्मिक/स्वैच्छिक संस्थाओं द्वारा 1,08,856 पैकेट एवं जिला प्रशासन व अन्य सरकारी संस्थाओं द्वारा 2,59,086 पैकेट पका पकाया भोजन का वितरण कराया जा चुका है।

उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया है कि जनपद में कोई भी व्यक्ति भोजन इत्यादि से भूखा न रहे। डीएम ने जनपदवासियों से अपील की है कि लाॅक डाउन के दौरान अपने घरों में सुरक्षित एवं स्वस्थ्य रहें। साफ-सफाई एवं सेनेटाइज तथा सोशल डिस्टेन्सिंग पर विशेष ध्यान दें। कोई भी व्यक्ति अनावश्यक रूप से घर से बाहर कदापि न निकलें।

You might also like
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: