Jan Sandesh Online hindi news website

47 साल के टीचर ने 160 छात्राओं के अश्लील स्कर्ट विडियो बनाए, अब पहुंचे जेल

सिंगापुर। सिंगापुर में एक टीचर के ऊपर छात्राओं के 160 से ज्यादा अपस्कर्ट विडियो बनाने का आरोप लगा है। मामले का खुलासा होने के बाद 47 साल के टीचर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 23 जून को इस टीचर पर महिलाओं के निजता का अपमान करने और समाज में अश्लीलता फैलाने का आरोप [...]
0

सिंगापुर। सिंगापुर में एक टीचर के ऊपर छात्राओं के 160 से ज्यादा अपस्कर्ट विडियो बनाने का आरोप लगा है। मामले का खुलासा होने के बाद 47 साल के टीचर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 23 जून को इस टीचर पर महिलाओं के निजता का अपमान करने और समाज में अश्लीलता फैलाने का आरोप लगाया गया है।

स्कूल का नाम नहीं किया गया सार्वजनिक
चैनल न्यूज एशिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, पीड़ितों की पहचान छिपाने के लिए संबंधित स्कूल का नाम सार्वजनिक नहीं किया गया है। बताया जा रहा है कि आरोपी ने अप्रैल 2015 से जुलाई 2018 के बीच लड़कियों के 168 अपस्कर्ट विडियो रिकॉर्ड किए थे। इसमें से कुछ विडियो इसने वायरल भी किया था।

और पढ़ें
1 of 140

2015 से 2018 के बीच बनाए विडियो
अप्रैल से अक्टूबर 2015 के बीच आरोपी ने आठ लड़कियों के 15 से अधिक बार अपस्कर्ट विडियो बनाया। इसके अलावा जून 2016 में आरोपी ने दूसरी आठ लड़कियों के नौ विडियो रिकॉर्ड किए। वहीं, 2017 में जुलाई से नवंबर के बीच 32 महिलाओं की कुल 105 ऐसी क्लिप कथित रूप से रिकॉर्ड की गई।

1 साल की जेल और जुर्माने का प्रावधान
जनवरी से जुलाई 2018 के बीच आरोपी ने 21 महिलाओं के 39 विडियो को फिल्माया था। हालांकि पुलिस ने यह नहीं बताया कि आरोपी के करतूत की पोल कैसे खुली। अब कोर्ट में इस मामले की सुनवाई जारी है। दोष सिद्ध होने के बाद आरोपी को एक साल की जेल या जुर्माना या दोनों सजा सुनाई जा सकती है।

स्कूल के बाहर भी रिकॉर्ड किया विडियो
आरोपी ने जिस स्कूल में पढ़ाया वहां की छात्राओं के विडियो बनाने के अलावा, फरवरी 2017 में अपने एक महिला रिश्तेदार का अपस्कर्ट विडियो भी रिकॉर्ड किया था। इसके ठीक एक महीने बाद आरोपी ने एक शॉपिंग माल में अनजान महिला का विडियो भी बनाया था। आरोपी को 14 जुलाई को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

2018 से सस्पेंड है आरोपी
सिंगापुर के शिक्षा मंत्रालय ने कहा कि आरोपी अब किसी भी स्कूल में नहीं पढ़ाएगा। उसे जुलाई 2018 से ही निलंबित कर दिया गया है। अगर कोर्ट में उसके खिलाफ आरोप सिद्ध होते हैं तो उसे सेवा से बर्खास्त कर दिया जाएगा।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: