Jan Sandesh Online hindi news website

अगले 30 दिन तक सोशल मीडिया पर Coca Cola नहीं देगी विज्ञापन…

0

सैन फ्रांसिस्को। वैश्विक स्तर पर बड़े पैमाने पर विज्ञापन देने वाली कंपनी कोका-कोला ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर कम-से-कम 30 दिन तक विज्ञापन नहीं देने का फैसला किया है। कोका कोला के चेयरमैन और सीईओ जेम्स क्विंसी की ओर से जारी संक्षिप्त बयान में कहा गया है, ‘दुनिया में नस्लवाद की कोई जगह नहीं है और सोशल मीडिया पर भी नस्लवाद का कोई स्थान नहीं है।’ उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया को अधिक जवाबदेह और पारदर्शी बनाए जाने की जरूरत है। कई बड़े ब्रांड ने नफरत फैलाने वाली सामग्री से निपटने के लिए कदम उठाने को लेकर दबाव डालने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स का बहिष्कार किया है।

क्विंसी ने कहा कहा कि ‘इन 30 दिनों के दौरान कोका-कोला अपनी विज्ञापन नीति का नए सिरे से आकलन करेगा। साथ ही इस बात का निर्धारण करेगा कि किसी प्रकार के बदलाव की जरूरत है या नहीं।’

शीतल पेय बनाने वाली दिग्गज कंपनी ने कहा है कि विज्ञापन को लेकर लिए गए इस मौजूदा ब्रेक का मतलब यह नहीं है कि कंपनी पिछले सप्ताह अफ्रीकी अमेरिकियों और सोशल सोसायटी समूहों द्वारा शुरू शुरू किए गए अभियान में शामिल हो रही है।

और पढ़ें
1 of 560

ये समूह कंपनियों से फेसबुक पर विज्ञापन रोकने के लिए कह रहे हैं। इस समूह में नेशनल एसोसिएशन फॉर द एडवांसमेंट ऑफ कलर्ड पीपुल (NAACP) जैसे संगठन शामिल हैं। ये समूह #StopHateForProfit के साथ अभियान चला रहे हैं।

इस अभियान का लक्ष्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर नफरत, नस्लवाद या हिंसा फैलाने वाले समूहों से सख्ती से निपटने वाला तंत्र विकसित करना है।

लिपटन टी और बेन एंड जेरी आइसक्रीम जैसे प्रोडक्ट्स बनाने वाली यूनिलीवर ने कहा है कि उसने चुनाव के ध्रुवीकरण वाली अवधि होने की वजह से 2020 के आखिर तक फेसबुक, ट्विटर और इन्स्टाग्राम पर विज्ञापन रोकने का फैसला किया है।

फेसबुक ने शुक्रवार को कहा कि वह विज्ञापन में नफरत फैलाने वाली सामग्री को प्रतिबंधित करेगी। संकट का सामना कर रही सोशल मीडिया कंपनी ने बड़े पैमाने पर हो रहे विरोध को देखते हुए ये घोषणा की है।

 

You might also like
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: