Jan Sandesh Online hindi news website

रिया चक्रवर्ती समेत छह के खिलाफ CBI ने सुशांत मामले में दर्ज किया केस, जांच के लिए SIT बनाई

0

नई दिल्‍ली। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में सीबीआइ ने रिया चक्रवर्ती समेत छह आरोपियों एवं अन्‍य के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। सूत्रों ने बताया कि मामले की जांच पुलिस अधीक्षक (एसपी) नूपुर प्रसाद की अगुआई वाली एसआइटी करेगी। इसकी निगरानी डीआइजी गगनदीप गंभीर तथा संयुक्त निदेशक मनोज शशिधर करेंगे। ये दोनों ही गुजरात कैडर के वरिष्ठ आइपीएस अधिकारी हैं। बता दें कि बिहार सरकार की मांग पर केंद्र सरकार ने बुधवार की शाम को सीबीआइ जांच के संबंध में अधिसूचना जारी की थी।

कल बुधवार को केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया था कि उसने सैद्धांतिक तौर पर यह मामला सीबीआइ को सौंपने की सिफारिश स्वीकार कर ली है। शीर्ष अदालत ने रिया चक्रवर्ती की बिहार में दर्ज मामला महाराष्ट्र स्थानांतरित करने की मांग पर बिहार सरकार, सुशांत के पिता एवं अन्य पक्षकारों को तीन दिन के भीतर जवाब दाखिल करने के निर्देश जारी किए थे। यही नहीं अदालत ने महाराष्ट्र सरकार से अभी तक हुई जांच की स्थिति रिपोर्ट बताने को भी कहा था।

और पढ़ें
1 of 3,254

सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा था कि मामले में सच सामने आना चाहिए। गौर करने वाली बात यह भी है कि सुशांत की मौत के मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज कर चुके प्रवर्तन निदेशालय ने भी अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) को समन भेजकर शुक्रवार को पूछताछ के लिए बुलाया है। ईडी ने सुशांत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा (Samuel Miranda) से भी पूछताछ कर चुकी है। सुशांत सिंह राजपूत के चार्टर्ड अकाउंटेंट रहे संदीप श्रीधर से भी पूछताछ हुई है।

मालूम हो कि सुशांत के पिता केके सिंह ने बिहार पुलिस में अभिनेत्री रिया के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई थी। इसी FIR का संज्ञान लेते हुए ईडी ने रिया के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था। इसी एफआइआर के आधार पर बिहार पुलिस ने सीबीआइ जांच की सिफारिश की।

इस बीच, मामले की जांच के लिए मुंबई गई बिहार पुलिस की चार सदस्यीय टीम पटना लौट आई है, जबकि अपनी टीम की अगुआई करने पहुंचे आइपीएस अधिकारी विनय तिवारी अभी मुंबई में ही क्वारंटाइन हैं। अपने अधिकारी को मुंबई में ‘जबरन क्वारंटाइन’ किए जाने पर बिहार के पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय ने गुरवार को कड़ी नाराजगी जताते हुए चेतावनी दी है कि यदि अधिकारी को क्वारंटाइन से मुक्त नहीं किया गया तो वह कानूनी कार्रवाई करेंगे।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.