Jan Sandesh Online hindi news website

सोना छू रहा नई ऊंचाई, चांदी नया रिकॉर्ड बनाने के करीब…

0

मुंबई। घरेलू वायदा बाजार में चांदी का भाव शुक्रवार को रिकॉर्ड 77,949 रुपये प्रति किलो पर चला गया और सोना ने भी 56,191 रुपये प्रति 10 ग्राम की रिकॉर्ड उंचाई को छुआ। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में सोने और चांदी में तेजी के चलते भारतीय बाजार में महंगी धातुएं लगातार नई ऊंचाई को छू रही हैं। हालांकि ऊंचे भाव पर मुनाफावसूली का भी दबाव बना हुआ है। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (एमसीएक्स) पर चांदी के सितंबर एक्सपायरी अनुबंध में शुक्रवार की सुबह 10.19 बजे पिछले सत्र से 248 रुपये यानी 0.33 फीसदी की तेजी के साथ 76300 रुपये प्रति किलो पर कारोबार चल रहा था, जबकि इससे पहले कारोबार के दौरान चांदी का भाव 77,949 रुपये प्रति किलो तक उछला, जो एक नया रिकॉर्ड है। हालांकि शुरूआती कारोबार के दौरान चांदी का भाव 75,063 रुपये प्रति किलो तक फिसला।

एमसीएक्स पर सोने के अक्टूबर वायदा अनुबंध में आठ रुपये की बढ़त के साथ 55853 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कारोबार चल रहा था, जबकि इससे पहले कारोबार के दौरान सोने का भाव 56,191 रुपये प्रति 10 ग्राम तक उछला, जोकि अब तक का रिकॉर्ड स्तर है। हालांकि आरंभिक कारोबार के दौरान सोने का भाव 55506 रुपये प्रति 10 ग्राम तक फिसला।

एंजेल ब्रोकिंग के डिप्टी वाइस प्रेसीडेंट अनुज गुप्ता ने कहा कि सोने और चांदी के भाव काफी उंचे स्तर पर हैं इसलिए मुनाफावसूली का दबाव बना हुआ है। इसके अलावा, डॉलर में मजबूती आने से महंगी धातुओं के दाम टूट सकते हैं, मगर यह ज्यादा समय तक नहीं रहेगा।

और पढ़ें
1 of 411

अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार कॉमेक्स पर सोने के अक्टूबर वायदा अनुबंध में पिछले सत्र से 1.65 डॉलर यानी 0.08 फीसदी की कमजोरी के साथ 2056.75 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार चल रहा था, जबकि इससे पहले भाव 2,077.85 डॉलर प्रति औंस तक उछला जोकि एक नया रिकॉर्ड स्तर है।

कॉमेक्स पर चांदी के सितंबर अनुबंध में पिछले सत्र से 0.33 फीसदी की तेजी के साथ 28.46 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार चल रहा था, जबकि इससे पहले चांदी का भाव कॉमेक्स पर कारोबार के दौरान 29.91 डॉलर प्रति औंस तक उछला। कॉमेक्स पर चांदी का भाव अप्रैल 2011 में रिकॉर्ड 49.83 डॉलर प्रति औंस तक उछला था जोकि एक रिकॉर्ड है।

केडिया एडवायजरी के डायरेक्टर अजय केडिया ने बताया कि सोने और चांदी में तेजी के सारे कारक अभी मौजूद हैं, लेकिन उंचे भाव पर मुनाफावसूली का दबाव देखा जा सकता है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा डॉलर में मजबूती और फ्राइडे फैक्टर्स के चलते भी सोने और चांदी के दाम पर दबाव रहेगा।

दुनिया की छह मुद्राओं के मुकाबले डॉलर की ताकत का सूचक डॉलर इंडेक्स पिछले सत्र से 0.34 फीसदी की बढ़त के साथ 93.08 पर बना हुआ था। पिछले सत्र में डॉलर इंडेक्स 92.47 तक टूटा था। बता दें कि डॉलर इंडेक्स 18 मई को 100.43 तक चढ़ा था, लेकिन उसके बाद से इसमें भारी गिरावट आ चुकी है।

केडिया ने कहा कि ईटीएफ की खरीदारी से सोने और चांदी को सपोर्ट मिल रहा है और भारत में सोने के जेवर पर 90 फीसदी तक कर्ज मिलने से भी सोने की तेजी को सपोर्ट मिल रहा है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.