Jan Sandesh Online hindi news website

सरकारी दफ्तर से लेकर चौराहों तक में शान से फहराया तिरंगा, बच्चों में दिखी देशभक्ति की ललक

बच्चों में दिखी देशभक्ति की ललक

0

कानपुर कोरोना महामारी के बीच देश का 74वां स्वतंत्रता दिवस पूरे शहर में मनाया गया। झंडारोहण के साथ ही आम जनता व अधिकारियों ने देश के महापुरुषों को याद कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। ऐ मेरे वतन के लोगों, जरा आंख में भर लो पानी, जो शहीद हुए हैं उनकी जरा याद करो कुर्बानी.. व आज 15 अगस्त है, जैसे देशभक्ति गीतों के साथ जगह-जगह तिरंगा शान से फहराया गया। कोरोना के कारण प्रभातफेरियां तो नहीं निकाली गईं लेकिन तमाम बच्चे हाथों में तिरंगा लेकर इधर उधर दौड़ते नजर आए। कलेक्ट्रेट समेत सभी सरकारी इमारतों में ध्वजारोहण किया गया और कर्तव्यनिष्ठा व पूरी ईमानदारी के साथ कार्य करने का संकल्प लिया गया।

और पढ़ें
1 of 2,267

कलेक्ट्रेट में शहीद पुलिसकर्मियों के लिए रखा गया दो मिनट का मौन

नगर निगम में नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी ने ध्वज फहराया तो विकास भवन में डॉ. महेंद्र कुमार ने। यूपीएसआइडीसी में सीईओ मयूर महेश्वरी ने ध्वजारोहण किया। नगर निगम ने सभी वार्ड में विशेष सफाई अभियान चलाया। इसी तरह गांवों में भी सफाई अभियान चलाया गया और कूड़े का उठान किया गया। वन विभाग समेत विभिन्न विभागों की ओर से जगह-जगह पौधे रोपे गए। अब शाम के समय विभिन्न व्यापारिक संगठनों द्वारा चौराहों पर आतिशबाजी की जाएगी और मिठाई का वितरण किया जाएगा। जनप्रतिनिधियों ने विभिन्न जगहों पर आयोजित समारोह में ध्वज फहराया। हालांकि इस दौरान शारीरिक दूरी के नियमों का पालन किया गया।
सपा विधायक अमिताभ बाजपेयी ने सरसैया घाट पर ध्वजारोहण कर 11 लोगों को गंगा में डूबने से बचाने वाले रोहित निषाद को सम्मानित किया।
आयुध पैराशूट निर्माणी (ओपीएफ) में निर्माणी महाप्रबंधक डी.के. बंगोत्रा ने झंडारोहण के साथ ही पौधारोपण भी किया। समहाप्रबंधक ने कहा कि हमारी निर्माणी राष्ट्र सेवा के अपने संकल्प को पूरा करने के लिये दृढ़ संकल्पित है। देश की एकता और अखण्डता को अक्षुण्ण रखना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है।
वहीं घाटमपुर तहसील परिसर में एसडीएम वरुण पांडेय व न्यायालय परिसर में सिविल जज विजय कुमार यादव ने तिरंगा फहराया।
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.