Jan Sandesh Online hindi news website

CBI ने सुशांत के वॉचमैन और कुक से पूछताछ की

वॉचमैन और कुक से पूछताछ की

0

नई दिल्ली, एजेंसी। सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) केस में सीबीआइ की जांच का आज छठा दिन है। जैसे-जैसे सीबीआइ की जांच आगे बढ़ रही है मामले में नए एंगल सामने आ रहे हैं। अब सुशांत केस में रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) का ड्रग कनेक्शन सामने आया है। रिया के वाट्सएप चैट से ड्रग डीलर से बातचीत होने की बात सामने आई है। ईडी ने रिया की टैलेंट मैनेजर जया साहा को पूछताछ के लिए समन भेजा है। इससे पहले ईडी ने ड्रग कनेक्शन से जुड़ा साक्ष्य सीबीआइ और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (Narcotics Control Bureau) के साथ साझा किया था। दूसरी तरफ, सुशांत के दोस्त सिद्धार्थ पिठानी और कुक नीरज समेत चार लोगों से सीबीआइ की टीम डीआरडीओ के गेस्ट हाउस में फिर पूछताछ कर रही है। पिठानी से सीबीआइ की पूछताछ का यह छठा दिन है।

रिया के वकील सतीश मानेशिंदे ने कहा है कि अभिनेत्री ने अपनी पूरी जिंदगी में कभी ड्रग नहीं लिया है और वह खून की जांच करवाने के लिए तैयार हैं।

वॉचमैन और कुक से पूछताछ

सुशांत सिंह राजपूत केस में सीबीआइ ने सुशांत के वॉचमैन को पूछताछ के लिए डीआरडीओ गेस्ट हाउस बुलाया है। सुशांत के कुक नीरज से भी सीबीआई पूछताछ करेगी।

खिलाई जा रही थी प्रतिबंधित दवा: विकास सिंह 

सुशांत के पिता के वकील विकास सिंह ने कहा है कि जब सुशांत सिंह राजपूत के परिवार ने एफआईआर दर्ज की, तो उसमें इस बात का भी जिक्र था कि उन्हें ज्यादा मात्रा में दवा खिलाई जा रही थी। लेकिन, अब कुछ रिपोर्टों से पता चला है कि यह एक प्रतिबंधित दवा थी। अगर यह प्रतिबंधित दवा है तो यह आत्महत्या के लिए उकसाने और हत्या का मामला बनता है। यह एक नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो मुद्दा भी है।

और पढ़ें
1 of 3,342

जांच के लिए तैयार रिया: सतीश मानशिंदे

रिया के उपर लग रहे ड्रग कनेक्शन के आरोपों को उनके वकील सतीश मानेशिंदे खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती ने अपनी पूरी जिंदगी में कभी ड्रग नहीं लिया है और वह खून की जांच करवाने के लिए तैयार हैं।

अब मुंबई पुलिस से होगी पूछताछ

सुशांत मामले की जांच से जुड़े मुंबई पुलिस के अधिकारियों से भी सीबीआइ पूछताछ करेगी। जांच एजेंसी ने इसके लिए पुलिस उपायुक्त अभिषषेक सिंह, सुशांत मामले के जांच अधिकारी भूषषण बेलनेकर एवं एक सब इंस्पेक्टर को समन भेजा है। मुंबई पुलिस 60 दिन से अधिक जांच करने के बावजूद इस मामले में एफआइआर तक दर्ज नहीं कर पाई। अब इन्हीं खामियों को लेकर सीबीआइ मुंबई पुलिस से विधिवत पूछताछ करना चाहती है।

एक साथ बैठाकर पूछताछ

मंगलवार को सीबीआइ ने सुशांत से जुड़े सात लोगों को एक साथ बैठाकर पूछताछ की। इस पूछताछ में सुशांत के घर में उसके साथ रहनेवाले सिद्धार्थ पिठानी, नीरज सिंह, केशव बचनेर और दीपक सावंत के अलावा सुशांत के चार्टर्ड एकाउंटेंट संदीप श्रीधर, हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा एवं एकाउंटेंट रजत मेवाती शामिल थे। इनमें सिद्धार्थ पिठानी एवं नीरज सिंह से सीबीआइ पहले ही कई घंटे की पूछताछ कर चुकी है। सीबीआइ द्वारा दो दिन पहले सुशांत के फ्लैट में सीन रीक्रिएशन के समय भी ये दोनों मौजूद थे।

सीबीआइ से झूठ बोल रहे पिठानी

सुशांत के परिवार ने सिद्धार्थ पिठानी पर सीबीआइ से झूठ बोलने का आरोप लगाया है। मीडिया में खबरें हैं कि सुशांत के साथ फ्लैट में रहने वाले पिठानी ने सीबीआइ की पूछताछ में दावा किया है कि उन्होंने परिवार के कहने पर सुशांत का शव फंदे से उतारा था। मुंबई पुलिस दिन में ही सुशांत का शव फ्लैट से कूपर अस्पताल ले गई थी, लेकिन सूत्रों के अनुसार उनका पोस्टमॉर्टम रात 11 बजे शुरू हुआ था।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.