Jan Sandesh Online hindi news website

रायबरेली का गालीबाज DM, सीएमओ को कहा -‘तुम्हारी खाल खींच लूंगा, जमीन में गाड़ दूंगा, गधा’

0

रायबरेली: उत्तर प्रदेश के रायबरेली में सीएमओ ने डीएम पर अभद्रता का आरोप लगाया है। आरोप है कि मीटिंग के दौरान डीएम ने सीएमओ को कहा कि ‘तुम्हारी खाल खींच लूंगा, जमीन में गाड़ दूंगा, गधा।’ सीएमओ का कहना है कि मीटिंग में ये बातें सुनकर मेरी तबीयत बिगड़ गई और मैं वहां से चला आया।

रायबरेली का गालीबाज DM, सीएमओ को कहा -‘तुम्हारी खाल खींच लूंगा, जमीन में गाड़ दूंगा, गधा’
Photo Credit Social Media

 

अपने से हुए दुर्व्यवहार को लेकर सीएमओ संजय कुमार शर्मा ने महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य को एक पत्र भेजा है। सीएमओ ने अपने पत्र में लिखा है कि शुक्रवार शाम डीएम वैभव श्रीवास्तव ने नोडल अधिकारियों की बैठक बुलाई थी। जिसमें सीडीओ अभिषेक गाेयल, सीएमओ डॉ.संजय कुमार शर्मा, एसडीएम सदर शालिनी प्रभाकर, डॉ.बीरबल, डॉ शम्स रिजवान, डॉ.राधाकृष्णन आदि शामिल हुए थे।

और पढ़ें
1 of 2,107
रायबरेली का गालीबाज DM, सीएमओ को कहा -‘तुम्हारी खाल खींच लूंगा, जमीन में गाड़ दूंगा, गधा’
Photo Credit Social Media

सीएमओ का कहना है कि भोजन प्रभारी डॉ. मनोज शुक्ल ने पत्नी का इलाज कराने के लिए छुट्टी मांगी थी, जो की कैंसर से पीड़ित हैं इसलिए मैंने छुट्टी स्वीकृत कर दी। इस कारण डॉ मनोज शुक्ल बैठक में शामिल नहीं हो सके।

रायबरेली का गालीबाज DM, सीएमओ को कहा -‘तुम्हारी खाल खींच लूंगा, जमीन में गाड़ दूंगा, गधा’
WhatsApp-Image-2020-09-05-at-5.00.42-PM

इस बात को लेकर डीएम वैभव श्रीवास्तव ने उनसे अपमान की भाषा में बात किया। सीएमओ ने लेटर में लिखा है कि डीएम ने कहा कि तुम्हारी खाल खींच लूंगा, जमीन में गाड़ दूंगा, गधा। मीटिंग में ये बातें सुनकर मेरी तबीयत बिगड़ गई और मैं वहां से चला आया।

इस मामले में डीएम वैभव श्रीवास्तव ने बताया कि सीएमओ काम में शिथिलता बरत रहे थे इस कारण मुझे गुस्सा आया और मैंने कहा कि खाल खींचकर भूसा भरा दूंगा मैंने कोई गाली नहीं दी।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.