Jan Sandesh Online hindi news website

पचास साल से ऊपर के पुलिस कर्मी किये जाएंगे सेवा निवृत,,,

0

जनता की सुरक्षा के लिए बनाई गई पुलिस जब खुद ही अनफिट होगी तो वो अपराधों पर लगाम कैसे लगा पाएगी,,,कुछ पुलिस कर्मी काफी ईमानदार होते है जबकि कई घूस लेने और अपराधियों की तरह काम करते है,,,और तो और वो पुलिस कर्मी जो पुलिस विभाग में अनफिट होते है वो सही से अपने काम को अंजाम नहीं दे पाते है,,,पुलिस हेडक्वाटर ने ऐसे पुलिस कर्मियों को जो पचास साल से ऊपर है उनको सेवा निवृत करने का फैसला लिया है,,,

और पढ़ें
1 of 2,125

आपको बता दे कि बीते कई महीनो से कानपुर पुलिस के कुछ ऐसे वीडियो वायरल हुए थे,,,जिनकी वजह से पुलिस की छवि धूमिल हो गयी थी,,,कानपुर के आला अधिकारियो ने ऐसे पुलिस कर्मियों के खिलाफ तगड़ा एक्शन लेते हुए उनको सस्पेंड कर दिया था,,,लेकिन अब जो पुलिस कर्मी पचास साल से ज्यादा उम्र के है और अपनी ड्यूटी कर रहे है अब उनको सेवा निवृत कर दिया जाएगा,,,आईजी जोन मोहित अग्रवाल ने इस मामले पर बताया की इसके लिए हर जनपद में स्क्रीनिंग कमेटी बनाई गई है,,,स्क्रीनिंग कमेटी पचास साल से ऊपर वाले पुलिस कर्मियों के करैक्टर रोल का अध्यन करके देखेगी कि जिनके ऊपर भ्रस्टाचार के आरोप है,,,अनुशान हीनता के आरोप है या फिर जो पुलिस कर्मी अपने काम में रूचि नहीं ले रहे है,,,ऐसे पुलिस कर्मी विभाग के ऊपर बोझ बने हुए है केवल सेलरी ले रहे है और विभाग की छवि को धूमिल कर रहे है,,,ऐसे पुलिस कर्मियों को चिन्हित करके उनको सेवा निवृत किया जाएगा,,,

पुलिस की छवि को सुधारने के लिए पिछले साल भी कानपुर रेंज से कई पुलिस कर्मियों को सेवा निवृत किया गया था,,,आईजी मोहित अग्रवाल ने बताया कि कानपुर रेंज में पिछले साल 25 पुलिस कर्मियों को परमानेंट रिटायर्ड किया गया था,,,इस साल भी सरकार के आदेश आये है जिसको चिन्हित किया जा रहा है,,, कर्मी विभाग की छवि को खराब कर रहे है उनको अनिवार्य रूप से सेवा निवृत किया जाएगा,,,आईजी ने बताया कि पंद्रह दिनों के भीतर इस कार्यवाही को किया जाएगा,,,|

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.