Jan Sandesh Online hindi news website

राहुल गांधी हिरासत में, पुलिस अफसर से पूछा- ये तो बताओ, कौन-सी धारा तोड़ी?

0

ग्रेटर नोएडा। हाथरस सामूहिक दुष्कर्म मामले को लेकर बृहस्पतिवार को ग्रेटर नोएडा के यमुना एक्सप्रेस-वे पर जमकर हाई वोल्टेज ड्रामा देखने को मिला। आरोप है कि पुलिस ने राहुल गांधी के साथ धक्का-मुक्की की। इस दौरान वह सड़क पर गिर गए। सड़क पर झाड़ी में गिरने की तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरस हो रही हैं। इसमें एक पुलिसकर्मी दिख रहा है और राहुल के साथ कुछ उनके सहायक भी हैं। कांग्रेस नेताओं का आरोप है कि उन्हें पुलिसकर्मी ने धक्का दे दिया। जिसकी वजह से वह गिर गए। मिली जानकारी के अनुसार, राहुल गांधी को चोट नहीं लगी है। उन्हें सुरक्षाकर्मियों ने उठाया।

राहुल गांधी के सड़क पर गिरने की सूचना मिलते ही कांग्रेस कार्यकर्ता बेकाबू हो गए। सड़क पर गिरने के बाद राहुल गांधी दोबारा उठे और पैदल ही हाथरस के लिए चलने लगे। लेकिन पुलिस ने उन्हें एक्सप्रेस-वे पर जमीन पर एक किनारे बैठा दिया।

वहीं, राहुल गांधी ने ट्वीट कर यूपी की योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट किया दुख की घड़ी में अपनों को अकेला नहीं छोड़ा जाता। यूपी में जंगलराज का ये आलम है कि शोक में डूबे एक परिवार से मिलना भी सरकार को डरा देता है।

राहुल व प्रियंका को हिरासत में लेने के बाद गेस्ट हाउस ले गई पुलिस

राहुल व प्रियंका गांधी को हिरासत में लेने के बाद पुलिस फॉर्मूला वन ट्रैक गेस्ट हाउस ले गई। जहां पर कुछ समय के बाद कांग्रेस नेताओं को दिल्ली की सीमा में छोड़कर पुलिस वापस आ गई। राहुल गांधी के साथ प्रियंका गांधी वाड्रा, दीपेंद्र हुड्डा और जतिन प्रसाद भी मौजूद रहे।

जिस गाड़ी में राहुल व प्रियंका को बैठाया उस पर चढ़े कांग्रेस कार्यकर्ता

और पढ़ें
1 of 5,046

जब राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को पुलिस ने हिरासत में लेकर गेस्ट हाउस जाने लगी तो कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया। पुलिस की जीप को चारों ओर से घेर कर पार्टी कार्यकर्ता जमीन पर लेट गए। ताकि उन्हें पुलिस न ले जा सके। जबकि कुछ कार्यकर्ता उस जीप के ऊपर चढ़कर हंगामा करने लगे जिसमें राहुल गांधी बैठे हुए थे।

प्रियंका गांधी का आरोप पुलिस ने बर्बर तरीके से पीटा

उधर, प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर आरोप लगाया कि उन्हें हाथरस जाने से रोका गया। जब वह राहुल के साथ पैदल चलने लगे तो बार-बार पुलिस ने रोका और बर्बरता से लाठीचार्ज किया। कई कार्यकर्ता घायल हैं। मगर हमारा इरादा पक्का है। काश यही लाठियां, यही पुलिस हाथरस की दलित बेटी की रक्षा में खड़ी होती।

कांग्रेस जिलाध्यक्ष मनोज चौधरी की पिटाई

कांग्रेस जिलाध्यक्ष मनोज चौधरी ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने उनकी पिटाई की है। आरोप है कि उन्हें दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया। वहीं लाठीचार्ज में कई कांग्रेस कार्यकर्ताओं को चोटें लगी हैं। बताया जा रहा कि जब राहुल व प्रियंका गांधी को गेस्ट हाउस ले जाया गया तो उसके बाद पुलिस यमुना एक्सप्रेसवे पर मौजूद कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज कर दिया। और उन्हें वहां से खदेड़ दिया।

डीएनडी पर लगा जाम

इससे पहले जब कांग्रेस नेताओं का काफिला डीएनडी पर पहुंचा तो लंबा जाम लग गया। पुलिस काफिले को डीएनडी से ही वापस कराने की तैयारी में थी, लेकिन कार्यकर्ताओं की संख्या अधिक होने के कारण पुलिस काफिले को वापस नहीं कर पाई, इसके बाद राहुल और प्रियंका का काफिला ग्रेटर नोएडा की तरफ बढ़ गया।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.