Jan Sandesh Online hindi news website

लखनऊ: नाके थाने से चंद कदम दूरी पर तीन दुकानों में चोरी, खुली पुलिस गश्त की पोल

0

लखनऊ चोरों ने पुलिस की गश्त की पोल खोलते हुए नाका थाने से चंद कदम दूरी पर स्थित तीन दुकानों का शटर व ताले तोड़कर हजारों की नकदी व कीमती सामान चुरा लिया। पुलिस हर बार की तरह जांच पड़ताल कर जल्द घटना का पर्दाफाश करने का आश्वासन देकर लौट गई।

लखनऊ में नाके थाने से चंद कदम दूरी पर तीन दुकानों में चोरी निर्माणाधीन मकान की छत के सहारे घुसे चोर शटर तोड़ दिया घटना को अंजाम। तीन दुकानों का शटर व ताले तोड़कर हजारों की नकदी व कीमती सामान चुरा लिया।
और पढ़ें
1 of 470

नाका चौराहे के पास स्थित गुप्ता सेल्स कारपोरेशन, पाजी डीजे वाले और परमात्मा इलेक्ट्रानिक्स दुकान में शुक्रवार चोरी हो गई। गुप्ता सेल्स कारपोरेशन के संचालक अंकित गुप्ता ने बताया ने बताया कि चोर दुकान के पास निर्माणाधीन मकान के रास्ते दुकान की छत से दीवार व शटर तोड़कर घुसे थे। चोरों ने दुकान में रखे 15 हजार रुपये नकद और दुकान में रखा कीमती सामन चुरा ले गए। चोरों ने दुकान के बगल में स्थित कमल जीत सिंह की परमात्मा इलेक्ट्रानिक्स दुकान से 75 हजार रुपये नकद और अमन प्रीत सिंह की पापा जी डीजे वाले दुकान से 45 हजार रुपये नकद चुरा ले गए।व्यापारियों ने पुलिस गश्त पर सवालिया निशान लगाते हुए कहा कि गश्त न होने से ही चोरी की घटनाओं पर लगाम नहीं लग पा रही है। एक साल पहले भी चोरों ने इसी तरह चोरी की घटना को अंजाम दिया था। घटना का पर्दाफाश न होने से चोरों के हौसले बुलंद है।

चोरी के माल के साथ दो शातिर गिरफ्तार 
अलीगंज पुलिस ने चोरी के माल के साथ ठाकुरगंज निवासी मो. सलीम और शमद को गिरफ्तार किया। दोनों ने 11 अक्टूबर की रात त्रिवेणीनगर तृतीय निवासी मो. आसीन के घर चोरी की घटना को अंजाम दिया था। इंस्पेक्टर फरीद अहमद के मुताबिक इनके पास से 62 हजार रुपये नकद और सोने चांदी के जेवर बरामद हुए हैं। वहीं दूसरी तरफ आशियाना पुलिस ने देवीखेड़ा मोड़ के पास से पीजीआई निवासी प्रशांत यादव को गिरफ्तार किया गया। इंस्पेक्टर केके तिवारी ने बताया कि प्रशांत ने 16 जनवरी की दोपहर ऋतु सिंह का पर्स लूटा था। उसका साथी शिवा पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है।
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.