Jan Sandesh Online hindi news website

Home Loan अप्लाई करने से पहले जरूर देख लें डॉक्यूमेंट्स की ये लिस्ट

0

नई दिल्ली। कोरोनावायरस महामारी को काबू में करने के लिए लागू लॉकडाउन के हटने के बाद देशभर में रियल एस्टेट सेक्टर में हलचल तेज हुई है। रेडी टू मूव प्रोपर्टीज की डिमांड बढ़ी है। हालांकि, ये बात सही है कि आज के इस दौर में बिना होम लोन के मकान खरीदना लगभग असंभव है। अगर आप भी लोन लेकर मकान खरीदने की सोच रहे हैं, तो हम आपको बताते चले कि बिल्कुल शुरुआती स्तर से आपको होम लोन से जुड़ी आपकी पात्रता के साथ-साथ दस्तावेजों की उपलब्धता को भी अपने ध्यान में रखना होगा। इसकी वजह यह है कि होम लोन देते समय बैंक आपके और आपकी आय और प्रोपर्टी के बारे में पूरी छानबीन करते हैं और पूरी तरह आश्वस्त होने के बाद ही लोन देते हैं।

दरअसल, मकान खरीदना किसी भी व्यक्ति के लिए बहुत बड़ी वित्तीय जवाबदेही होती है। ऐसे में सेक्योरर्ड लोन होने के बावजूद बैंक किसी तरह का अतिरिक्त जोखिम नहीं लेना चाहते हैं और कर्ज लेने वालों से ये दस्तावेज आम तौर पर मांगते हैंः

1. पहचान पत्रः पहचान पत्र के रूप में बैंक पासपोर्ट, आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस जैसे डॉक्यूमेंट की मांग करते हैं।

2. आवासीय प्रमाण पत्रः आम तौर पर बैंक कर्ज लेने वाले की रिहाइश के प्रमाण पत्र के रूप में बैंक पासबुक, वोटर आईडी कार्ड, राशन कार्ड, पासपोर्ट, टेलीफोन बिल, इलेक्ट्रिसिटी बिल, वाटर बिल, गैस बिल, एलआईसी की पॉलिसी रसीद जैसे डॉक्यूमेंट चाहते हैं।

और पढ़ें
1 of 522

3. उम्र की पुष्टि करने वाला प्रमाण पत्रः आवेदक के आयु के प्रमाण पत्र के रूप में बैंक आधार कार्ड, पैन कार्ड, पासपोर्ट, जन्म प्रमाण पत्र और 10वीं की मार्क्सशीट स्वीकार करते हैं।

  1. पासपोर्ट साइज फोटो

अब आय से जुड़े दस्तावेजों की बात करते हैंः

वेतनभोगी लोगों के लिए

  1. एक से दो साल का फॉर्म-16

  2. तीन-छह माह की सैलरी स्लिप

  3. पिछले दो-तीन साल का इनकम टैक्स रिटर्न

  4. नियुक्ति पत्र, इन्क्रिमेंट लेटर या प्रमोशन लेटर

  5. निवेश से जुड़े दस्तावेज (फिक्स्ड डिपोजिट)

स्व-रोजगार वालों के लिए

  1. तीन साल का इनकम टैक्स रिटर्न

  2. बैलेंस शीट

  3. सीए द्वारा प्रमाणित कंपनी का लाभ या हानि से जुड़ा अकाउंट स्टेटमेंट

  4. बिजनेस लाइसेंस का ब्योरा

  5. अगर आप प्रोफेशनल प्रैक्टिस करते हैं तो उसका लाइसेंस

  6. प्रतिष्ठानों का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट

  7. बिजनेस के पते का सर्टिफिकेट

प्रोपर्टी से जुड़े आवश्यक दस्तावेज

  1. रजिस्टर्ड सेल डीड, अलॉटमेंट लेटर या बिल्डर के बिक्री के साथ का स्टांप्ड एग्रीमेंट

  2. अगर मकान रेडी टू मूव है तो ऑक्यूपेंसी सर्टिफिकेट होना चाहिए

  3. प्रोपर्टी टैक्स की रसीद, मेंटेनेंस बिल और बिजली बिल

  4. सोसायटी या बिल्डर से एनओसी

  5. बिल्डिंग प्लान की स्वीकृति की कॉपी

  6. बिल्डर या सेलर को किए गए भुगतान की रसीद और बैंक अकाउंट स्टेटमेंट

 

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.