Jan Sandesh Online hindi news website

स्मृति ईरानी ने ओवैसी पर साधा निशाना, बोलीं- AIMIM और TRS घुसपैठियों की कर रहे मदद

0

हैदराबाद। तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में होने वाले नगर निगम चुनावों को लेकर राजनीति तेज हो गई है। बीजेपी की ओर से AIMIM और TRS पर लगातार हमले तेज हो गए हैं। 1 दिसंबर को ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनावों के लिए प्रचार करते हुए, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने आज अवैध प्रवासियों के मुद्दा उठाया है। साथ उन्होंने ने असदुद्दीन ओवैसी पर जमकर निशाना साधा है। स्मृति ने कहा कि, “हमारे सैनिक हमारी सीमाओं को सुरक्षित रखने के लिए अथक संघर्ष कर रहे हैं। यहां इस ऐतिहासिक शहर हैदराबाद में एआईएमआईएम और टीआरएस अवैध प्रवासियों को तेलंगाना की मतदाता सूची में जगह देने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं। उन्हें इसके लिए लोगों को जवाब देना होगा।

और पढ़ें
1 of 3,171

हमें घुसपैठियों से आम भारतीयों के हितों की रक्षा सुनिश्चित करनी होगी। AIMIM और TRS आम भारतीयों या हैदराबाद के वोटरों के साथ नहीं, बल्कि अवैध घुसपैठियों के साथ खड़ी है ताकि उनके जरिए अपना राजनीतिक हित साध सके।” उन्होंने ने आगे कहा कि, “हमें प्रत्येक भारतीय नागरिक के अधिकारों की रक्षा करने की आवश्यकता है। करदाताओं के पैसे को सुनिश्चित करने के लिए प्रशासन और संस्थानों के अधिकार। योग्य भारतीय जो इस महान भूमि का हिस्सा हैं।

टीआरएस या एमआईएम के लिए, अवैध प्रवासियों के लिए एक अपवित्र गठबंधन में अवैध आप्रवासियों के कारण किया है। भारत हर भारतीय नागरिक का है और इसलिए हमें यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि भारतीय नागरिकों के अधिकारों की रक्षा हो। अवैध प्रवासियों के खिलाफ। इसलिए टीआरएस और एमआईएम एक औसत भारतीय द्वारा खड़े नहीं होंगे और अतिरिक्त अवैध प्रवासियों का चयन करेंगे ताकि वे राजनीतिक रूप से लाभान्वित हो सकें। मीडिया ने खुद ही ये बात सामने लाई है रोहिंग्याओं को मतदाता सूची में जोड़ा गया है। जिसका फायदा उनको उनकी पार्टी को हुआ है।”

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.