Jan Sandesh Online hindi news website

शुरू हुआ कोरोना से जंग को महाअभियान, दून अस्पताल में वॉर्ड ब्वॉय को लगा पहला टीका

0

देहरादून। नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण से बचाव के लिए आज से टीकाकरण अभियान की शुरुआत हो गई है। पहले दिन 34 स्थानों (बूथों) पर स्वास्थ्य कर्मियों को टीके लगाए जा रहे हैं। इनमें 32 सरकारी और दो प्राइवेट चिकित्सा इकाई शामिल हैं। हर बूथ पर एक सौ लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। दून अस्पताल में सबसे पहले टीका वॉर्ड ब्वॉय शैलेंद्र द्विवेदी को लगाया गया। वे लंबे समय से कोविड वार्ड में ड्यूटी कर रहे हैं। वहीं, ऋषिकेश राजकीय अस्पताल में वॉर्ड ब्वॉय शिव सिंह नेगी को पहला टीका लगाया गया।

LIVE Updates 

-सिविल अस्पताल रुड़की के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. संजय कंसल को लगा पहला कोविड-19 वैक्सीन का टीका। 11 बजकर 24 मिनट पर हुआ टीकाकरण।

(रुड़की के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. संजय कंसल को टीका लगाती हुई टीम) 

-टिहरी जिला अस्पताल में डा. राखी गुसांई को पहला टीका लगाया गया। उन्होंने कहा, वैक्सीन आने के बाद अब सब निश्चिंत हैं। वैक्सीन से देश को कोराना से मुक्ति मिलेगी। साथ ही पिछले कई महीनों से इस संक्रमण को लेकर जो भय का माहौल बना था उससे अब जनता को छुटकारा मिल पाएगा।

(टिहरी में डॉक्टर राखी गुसाईं को लगा पहला कोविड टीका)

-राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश में सबसे पहला टीका वार्ड बॉय शिव सिंह नेगी को लगाया गया। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ एनएस तोमर ने बताया कि मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय से जारी निर्देश के अनुपालन में पहला टीका चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को लगाया गया है। दूसरा टीका डॉ विजयेश भारद्वाज को लगाया गया।

(राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश में सबसे पहला टीका वार्ड बॉय शिव सिंह नेगी को लगा पहला टीका)

-उत्तरकाशी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नौगांव में फार्मासिस्ट गणेश प्रकाश डिमरी को लगा पहला कोविड-19 का टीका।

(पौड़ी जिला चिकित्सालय में पहले टीका लगाते सीएमएस डॉ. रमेश राणा) 

और पढ़ें
1 of 209

– मुख्यमंत्री त्रिवेंंद्र सिंह रावत पहुंचे दून अस्पताल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम से वर्चुअली जुड़े।

  • नई टिहरी जिला अस्पताल में डेंटल हाइजीनिस्ट अखिल वर्मा को पहला कोविड टीका लगाया जाएगा। सीएमओ डॉ. सुमन आर्य और सीएमएस डॉ. अमित रॉय के साथ अखिल वर्मा।

देहरादून के श्री महंत इंद्रेश अस्पताल में कोरोना वैक्सीनेशन से पहले व्यवस्थाओं का जायजा लेते श्री गुरुराम मेडिकल कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ. अनिल मेहता।

(महंत इंद्रेश अस्पताल, देहरादून) 

  • हरिद्वार में भी टीकाकरण की तैयारियां पूरी हो गई हैं। ऋषि कुल आयुर्वेदिक कालेज केंद्र पर कोरोना वैक्सीन पहुंच चुकी है।

हरिद्वार मेला अस्पताल में सबसे पहले सीएमएस डॉ. राजेश को लगेगा टीका  

हरिद्वार जिला मेला और महिला अस्पताल के सीएमएस डॉ. राजेश गुप्ता टीकाकरण के लिए ऋषि कुल आयुर्वेदिक कालेज केंद्र पर पहुंच गए हैं। उन्होंने सबसे पहले टीके लगवाने की बात कही है। उनका कहना है कि वे इसलिए सबसे पहले टीका लगवा रहे हैं, जिससे डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों का मनोबल बढ़ सके।

उपजिलाधिकारी ने किया कोटद्वार बेस अस्पताल का मुआयना 

कोटद्वार बेस चिकित्सालय में कोविड-19 टीकाकरण की सभी तैयारी पूरी कर ली गई है। उप जिलाधिकारी योगेश मेहरा, सीओ अनिल जोशी चिकित्सालय के ट्रॉमा सेंटर भवन में बनाए गए भवन का मुआयना कर रहे हैं। प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉ. वीसी काला ने बताया कि प्रथम चरण में राजकीय चिकित्सालय के 158 हेल्थ वर्कर को टीका लगना है। पहले दिन 100 स्वास्थ्य कर्मियों और अधिकारियों को टीके लगाए जाएंगे।

32 सरकारी चिकित्सा इकाईयां चिह्नित

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की मिशन निदेशक और टीकाकरण अभियान की राज्य नोडल अधिकारी सोनिका ने बताया कि सभी 13 जनपदों में कोविड-19 का टीका लगाया जाएगा। देहरादून जनपद में पांच, हरिद्वार व ऊधमसिंहनगर में चार-चार, नैनीताल में तीन और अन्य जनपदों में दो-दो बूथों पर स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जाएगा। टीकाकरण के लिए जो 32 सरकारी चिकित्सा इकाईयां चिह्नित की गई हैं। इनमें एम्स ऋषिकेश और ऋषिकुल आयुर्वेदिक कॉलेज भी शामिल है, जबकि निजी चिकित्सा इकाईयों में हिमालयन अस्पताल जौलीग्रांट और एसजीआरआर मेडिकल कॉलेज शामिल किया गया है।

 

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.