Jan Sandesh Online hindi news website

पढ़िये- IMD की ताजा भविष्यवाणी, लगातार तीसरे दिन टूटा गर्मी का रिकॉर्ड

0

नई दिल्ली । दिल्ली-एनसीआर में ठंड से राहत का सिलसिला जारी है। शनिवार को सुबह कोहरे ने जरूर परेशान किया, लेकिन ठंड विदाई की ओर जाती महसूस हुई। कोहरे के कारण शनिवार सुबह दिल्ली के साथ गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, रेवाड़ी, गाजियाबाद और नोएडा-ग्रेटर नोएडा में वाहन चालकों को खासी दिक्कत पेश आई। उधर, ठंड ने बिल्कुल भी परेशान नहीं किया, लेकिन कोहरे के चलते कहीं-कहीं अलाव जरूर जलते नजर आए। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की मानें तो दिल्ली के साथ एनसीआर के भी इलाकों में अगले तीन दिन के दौरान ऐसा ही मौसम बने रहने के आसार हैं। यानी ठंड से राहत मिलती रहेगी, लेकिन कोहरा बीच-बीच में परेशान कर सकता है। वहीं, कोहरे के चलते ट्रेनों का आवागमन भी प्रभावित हो सकता है, लेकिन पूर्व की तरह ज्यादा परेशानी नहीं आएगी।

लगातार टूट रहा गर्मी का रिकॉर्ड

और पढ़ें
1 of 1,045

इससे पहले फरवरी में लगातार तीसरे दिन शुक्रवार को भी गर्मी ने एक दशक का रिकॉर्ड तोड़ा। आलम यह है कि दिन में गर्म कपड़े काटने लगे हैं, तो सुबह-शाम भी अब उतनी ठंड नहीं रह गई। आंशिक रूप से छाए बादलों के बीच दिनभर हल्का कोहरा भी छाया रहा। इससे लोगों को स्मॉग का एहसास हुआ।

धूप दे रही राहत

सुबह-शाम ठंड के बीच दिन में तेज धूप से लोगों को राहत मिल रही है। दिल्ली-एनसीआर में लोग सुबह से ही धूप सेंकने के लिए पार्कों, बॉलकनी और घरों की छतों पर पहुंच रहे हैं।

मौसम विभाग के मुताबिक शुक्रवार को राजधानी का न्यूनतम तापमान 10.2 डिग्री सेल्सियस, जबकि अधिकतम तापमान सामान्य से चार ज्यादा 27.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 2012 से लेकर 2021 के दौरान 12 फरवरी के दिन इतना ज्यादा अधिकतम तापमान पहले नहीं रहा। 2016 में भी यह 27 डिग्री सेल्सियस तक ही पहुंचा था। मौसम विभाग की मानें तो मैदानी इलाकों से अब सर्दी की विदाई हो चुकी है। हालांकि, पर्वतीय इलाकों में हुई बर्फबारी की वजह से वहां हल्की सर्दी है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.