Jan Sandesh Online hindi news website

निःसंतान दंपतियों के लिये मेडिकल साइंस है वरदान

गौरव जायसवाल 

1
लखनऊ। स्त्री का माँ बनना उसका सबसे बड़ा सौभाग्य माना जाता है क्योकि माँ बनने पर वो अपने शरीर के एक हिस्से को अपने शिशु के रूप में पाती है. किन्तु वो स्त्री जिनको संतान नही हो, उनका दुःख सिर्फ वो ही समझ सकती है. लेकिन अब मेडिकल जगत की अत्याधुनिक तकनीक से हर स्त्री मातृत्व का सुख प्राप्त कर सकती है।
बदलती जीवनशैली, असंतुलित आहार, व्यायाम की कमी आदि कारणों से भी तमाम महिलाएं-युवतियां अनियमित माहवारी से परेशान हैं। किसी को लंबे समय से माहवारी न आने तो किसी को जल्दी या देरी से माहवारी आने की समस्या है। कई बार गर्भधारण की इच्छुक महिलाएं भी इससे परेशान होती हैं। इसकी अनदेखी ठीक नहीं। तुरंत ही अपनी डाक्टर से जांच व उपचार कराएं, ताकि समस्या को बढ़ने से रोका जा सके।
और पढ़ें
1 of 260
jansandeshonline.com के विशेष कार्यक्रम हेलो डाक्टर में डॉ. सुनीता चन्द्रा ऑबस्टेट्रीशियन एंड गॉयनेकॉलाजिस्ट (प्रसूति एवं स्त्री रोग विशेषज्ञ) ने बांझपन पर जानकारी दी। उन्होंने महिलाओं को बांझपन व दूसरी बीमारियों से बचाव व उपचार के बारे में भी बताया। देखिये पूरा वीडियो।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

1 Comment
  1. […] ताकि समस्या को बढ़ने से रोका जा सके। जनसंदेश ऑनलाइन के विशेष कार्यक्रम हेलो डाक्टर में […]