Jan Sandesh Online hindi news website

काबू में कोरोना! पिछले 24 घंटों में 18 प्रदेशों से एक भी मौत की खबर नहीं

0

नई दिल्ली उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh), राजस्थान और आंध्र प्रदेश समेत 18 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 से कोई मौत नहीं हुई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को इस बारे में बताया। मंत्रालय ने बताया कि देश में संक्रमण से स्वस्थ होने की दर में लगातार सुधार देखा जा रहा है।

और पढ़ें
1 of 1,034

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कही ये बात
स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘पिछले 24 घंटे में 18 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोविड-19 से किसी की मौत की सूचना नहीं है। इनमें उत्तर प्रदेश, राजस्थान, आंध्र प्रदेश, जम्मू कश्मीर, झारखंड, पुडुचेरी, हिमाचल प्रदेश, लक्षद्वीप, मणिपुर, लद्दाख, असम, अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह, सिक्किम, मेघालय, त्रिपुरा, मिजोरम, अरुणाचल प्रदेश, दादर एवं नगर हवेली और दमन एवं दीव शामिल हैं।’

इतने लोगों का हुआ टीकाकरण
मंत्रालय द्वारा बुधवार को सुबह आठ बजे तक जारी अनंतिम रिपोर्ट के अनुसार 1,91,373 सत्रों के माध्यम से करीब 90 लाख लाभार्थियों का टीकाकरण किया गया। इनमें 61,50,922 स्वास्थ्य कर्मी (पहली खुराक), 2,76,377 स्वास्थ्य कर्मी (दूसरी खुराक) और अग्रिम मोर्चे के 25,71,931 कर्मी (पहली खुराक) शामिल हैं। मंत्रालय के अनुसार 16 फरवरी को शाम चार बजे तक जिन लोगों का टीकाकरण हुआ उनमें 36 लोगों के अस्पताल में भर्ती होने और 29 लोगों की मौत की सूचना है। अस्पताल में भर्ती होने वाले 36 लोगों में से 22 को उपचार के बाद छुट्टी दे दी गयी।

’12 लोगों की हुई मौत’
मंत्रालय ने कहा, ‘दो लोगों का अब भी उपचार चल रहा है और 12 लोगों की मौत हुई है। मरने वाले 29 लोगों में से 17 की मौत अन्यत्र जबकि 12 लोगों की मौत अस्पताल में हुई।’ मंत्रालय ने कहा कि अब तक टीकाकरण के बाद गंभीर दुष्प्रभाव या इससे किसी की मौत के मामले नहीं आए हैं। पहली खुराक लेने के 28 दिन होने पर लाभार्थियों के लिए 13 फरवरी से दूसरी खुराक की शुरुआत की गयी। टीकाकरण अभियान के 32वें दिन (16 फरवरी) कुल 7,001 सत्र में 2,76,943 लोगों को टीके की खुराक दी गयी। इनमें से 1,60,691 लोगों को पहली खुराक दी गयी और 1,16,252 स्वास्थ्यकर्मियों को दूसरी खुराक दी गयी।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.