Jan Sandesh Online hindi news website

पांच जिलों में यलो अलर्ट जारी, उत्तराखंड में कल ओलावृष्टि की संभावना

0

देहरादून। चटख धूप और पारे में तेजी से उछाल के बाद उत्तराखंड में मौसम अब करवट बदल सकता है। पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से प्रदेश के पांच जिलों में मंगलवार को ओलावृष्टि को लेकर यलो अलर्ट जारी किया गया है। इधर, ज्यादातर इलाकों में न्यूनतम तापमान सामान्य से दो-चार डिग्री सेल्सियस ऊपर पहुंच गया है।

और पढ़ें
1 of 212

उत्तराखंड में पिछले कई दिनों से मौसम शुष्क बना हुआ है। दिन में चटख धूप खिलने के कारण गर्मी का एहसास होने लगा है। हालांकि, सुबह और शाम को हल्की ठंड बरकरार है। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक, सोमवार को हिमालयी क्षेत्रों में पश्चिमी विक्षोभ के पहुंचने के आसार हैं। जिसके बाद मंगलवार और बुधवार को चमोली, देहरादून, उत्तरकाशी, नैनीताल और बागेश्वर में ओलावृष्टि हो सकती है। इसके अलावा कहीं-कहीं आकाशीय बिजली गिरने की आशंका है।

सुबह छाया रहा कोहरा, फिर खिली धूप 

रुड़की शहर और आसपास के क्षेत्रों में रविवार को सुबह कोहरा छाया रहा। वहीं पिछले दिनों की तुलना में धूप की चमक भी हल्की रही। जिससे मौसम में ठंडक घुली रही। शिक्षानगरी में गत कुछ दिनों से मौसम कई रंग बदल रहा है। किसी दिन तेज धूप खिल रही है। जिससे मौसम में ठंड का असर कम हो रहा है तो कभी सुबह कोहरा छा रहा है व हल्की धूप खिल रही है। रविवार को भी सुबह साढ़े दस बजे तक वातावरण में कोहरा छाया रहा। ऐसे में अलसुबह दृश्यता कम रही। वाहन चालकों ने दृश्यता कम होने के चलते गाड़ी की लाइट जलाकर यात्रा की। वहीं, सुबह साढ़े दस बजे के बाद कोहरा छंटना शुरू हो गया और कुछ देर बाद धूप खिल गई। धूप खिलने से नागरिकों ने ठंड से राहत महसूस की लेकिन दिन ढलने के बाद मौसम फिर से सर्द हो गया।

विभिन्न शहरों का तापमान

शहर       अधि.      न्यून.

देहरादून     26.6     11.8

उत्तरकाशी   20.6     08.0

मसूरी       17.5     07.9

टिहरी       19.8     08.4

हरिद्वार      24.8     10.8

जोशीमठ    18.3     05.2

पिथौरागढ़   22.0    06.1

अल्मोड़ा    25.1    05.5

मुक्तेश्वर    18.4    06.4

नैनीताल     16.4    07.0

यूएसनगर    27.0    07.6

चम्पावत     18.3    03.2

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.