Jan Sandesh Online hindi news website

दिशा रवि और शांतनु मुलुक का होगा आमना-सामना, साइबर सेल दफ्तर में पूछताछ

0

नई दिल्ली किसान आंदोलन से संबंधित टूलकिट केस (Toolkit Case) मामले में गिरफ्तार जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि (Disha ravi) को पूछताछ के लिए दिल्ली पुलिस की साइबर सेल के दफ्तर में लाया गया है। आज मामले में सह-आरोपी शांतनु मुलुक से भी पूछताछ होनी है। आज दिशा और शांतनु का आमना-सामना भी कराया जाएगा।

दिल्ली की एक अदालत ने सोमवार को 21 वर्षीय जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि को एक दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया। दिशा को किसानों के विरोध प्रदर्शन से संबंधित एक ‘टूलकिट’ सोशल मीडिया पर साझा करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट पंकज शर्मा ने पुलिस को रवि से हिरासत में पूछताछ करने की अनुमति दे दी, जब उसने कहा कि जलवायु कार्यकर्ता का इस मामले में अन्य सह-आरोपियों से आमना-सामना कराने की जरूरत है। रवि को तीन दिन की न्यायिक हिरासत समाप्त होने के बाद अदालत में पेश किया गया था।

और पढ़ें
1 of 1,026

13 फरवरी को बेंगलुरु से गिरफ्तार हुई थी दिशा
अदालत ने शुक्रवार को उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया था, जब पुलिस ने कहा था कि फिलहाल उससे हिरासत में पूछताछ की आवश्यकता नहीं है। पुलिस ने कहा था कि सह-आरोपियों निकिता जैकब और शांतनु मुलुक के 22 फरवरी को पूछताछ में शामिल होने के बाद वह रवि को हिरासत में पूछताछ के लिये भेजने की मांग करेगी। रवि को दिल्ली पुलिस ने 13 फरवरी को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया था।

दिशा की जमानत याचिका पर सुनवाई आज
आज दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में दिशा के जमानत याचिका पर सुनवाई होनी है। बता दें कि पटियाला कोर्ट में दिशा रवि की जमानत याचिका का विरोध करते हुए सरकारी वकील ने अपने पक्ष में कहा कि किसान आंदोलन की आड़ में भारत की छवि को धक्का पहुंचाने की अंतराष्ट्रीय साजिश रची गई। जिसमें दिशा रवि का शामिल होने की प्राथमिक जांच में नाम सामने आई है। पोएटिक जस्टिस फाउंडेशन के संस्थापक मो.धालीवाल ने सोशल मीडिया पर खालिस्तान समर्थन में एक पेज बनाया। जो सोशल मीडिया पर वायरल भी हुए।

दिशा के वकील ने पुलिस के आरोपों को बताया निराधार
उधर दिशा रवि के वकील ने कहा कि किसी भी विदेशी लोगों से बातचीत को देश विरोधी करार नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस के आरोप निराधार है। उन्होंने कहा कि वे दिल्ली पुलिस को सहयोग करने के लिये तैयार है। यहां तक कि दिशा दिल्ली में ही रहेगी।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.