Jan Sandesh Online hindi news website

रेल यात्रियों को राहत मिली, मोबाइल पर फिर से बुक कर सकेंगे जनरल टिकट, जानें कैसे बुक करें टिकट;

0

नई दिल्ली। रेलवे ने गुरुवार को कहा कि बुकिंग काउंटरों पर भीड़ खत्म करने और शारीरिक दूरी का पालन कराने के लिए वह मोबाइल एप पर अपने यूटीएस के जरिए गैर आरक्षित टिकट बुक कराने की सुविधा को चालू करेगा। इसे पिछले साल कोरोना वायरस के चलते बंद कर दिया गया था। रेल मंत्रालय के एक बयान में कहा गया है कि भारतीय रेलवे में गैर आरक्षित ट्रेन सेवाएं चरणबद्ध तरीके से शुरू की जा रही हैं।

और पढ़ें
1 of 1,138

गैर आरक्षित टिकटों की बुकिंग में यात्रियों को असुविधा से बचाने और टिकट खरीदते समय काउंटरों पर शारीरिक दूरी बनाये रखने के नियम के अनुपालन के लिए यह तय किया गया है कि जोनल रेलवे के उपनगरीय खंडों पर उपलब्ध यूटीएस ऑन मोबाइल एप सुविधा के अलावा गैर उपनगरीय खंडों पर भी यह सुविधा फिर से बहाल की जाए।

इंडियन रेलवे की ओर से ये फैसला कुछ जगहों पर पैंसेंजर ट्रेन सेवाएं(Passenger Train Service) शुरू करने को देखते हुए लिया गया है। फिलहाल जनरल टिकट (General ticket )टिकट काउंटर पर ही मिल रहा है और कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए यात्रियों को भी टिकट काउंटर से टिकट लेने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन अब रेलवे के इस फैसले के बाद अब आप अपने मोबाइल फोन से ही जनरल टिकट बुक करा के अनारक्षित श्रेणी की बोगी में यात्रा कर सकते हैं।

कैसे बुक करें टिकट

इसके लिए आपको अपने फोन में UTS ON MOBILE app डाउनलोड करना होगा। UTS ON MOBILE app एंड्रॉइड और आईफोन, दोनों तरह के स्मार्टफोन पर काम करता है। इस ऐप का इस्तेमाल करने के लिए आपको जीपीएस एक्टिवेट करना होगा। आप किसी भी रेलवे स्टेशन के 5 किलोमीटर के दायरे में जनरल टिकट बुक कर सकते हैं।

इसके बागद UTS ON MOBILE app से जनरल टिकट बुक कराने पर आपको एक पीएनआर नंबर दिया जाएगा। एक पीएनआर नंबर पर आप 4 टिकट बुक करा सकते हैं। टिकट के पैसे का पेमेंट डिजिटल मोड में किया जा सकता है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.