Jan Sandesh Online hindi news website

जिम्नास्टिक में भारत की ओलिंपिक के लिए उम्मीदें खत्म, ये है बड़ी वजह

0

इसी साल जापान की राजधानी में होने वाले ओलिंपिक खेलों (Olympic games) को लेकर भारतीय खिलाड़ियों में गजब का उत्साह है. सभी खिलाड़ियों का सपना होता है कि वह खेलों के महाकुंभ में पदक जीत इतिहास रचें और देश को गर्व करने का मौका दें,लेकिन इस बार भारत के जिम्नास्टिक (Gymnastics) खिलाड़ियों का ओलिंपिक में जाना मुश्किल हो गया है. इसी के साथ रियो ओलिंपिक-2016 में बेहद करीब से पदक से चूकने वाली महिला जिम्नास्ट दीपा करमाकर (Deepa Karmakar) को भी निराशा हाथ लगी है.

और पढ़ें
1 of 3,849

सिर्फ दीपा ही नहीं बल्कि भारत के तमाम जिम्नास्टिक खिलाड़ियों की ओलिंपिक में खेलने की उम्मीदों को तगड़ा झटका लगा है. इसका एक कारण विश्व कप रद्द होना है. विश्व कप की एक सीरीज के रद्द होने से महिला जिम्नास्टिक दीपा करमाकर सहित अन्य भारतीय जिम्नास्टों के इस साल होने वाले टोक्यो ओलंपिक में पहुंचने की उम्मीदें समाप्त हो गई हैं.

कोरोना ने डाला असर

कोरोना महामारी के कारण दो विश्व कप को रद्द किया गया है जबकि अंतरराष्ट्रीय जिम्नास्टिक महासंघ (FIG) ने मार्च में होने वाले एक अन्य विश्व कप को स्थगित कर दिया है. रद्द किए गए विश्व कप में से एक का आयोजन इस महीने तथा दूसरे का अगले महीने होना था. द्रोणाचार्य अवार्डी और दीपा के कोच बिशेश्वर नंदी ने आईएएनएस से कहा, “हम तैयार हैं लेकिन ओलिंपिक क्वालीफिकेशन प्रणाली में बड़ा बदलाव आया है. क्वालीफिकेशन अंक हासिल करने के लिए कोई अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट नहीं है. मुझे नहीं पता कि आगे की क्या प्रक्रिया होगी.”

3 ओलिंपिक क्वालीफायर्स में भाग लेना जरूरी

नंदी के अनुसार ओलिंपिक क्वालीफिकेशन अंक हासिल करने के लिए तीन ओलिंपिक क्वालीफायर्स में भाग लेना जरूरी है. रियो ओलिंपिक में भाग लेने वाली 27 वर्षीय दीपा को मार्च 2019 में घुटने में चोट लगी थी जिसके कारण वह अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों में भाग नहीं ले सकी थीं. नंदी ने कहा, “ओलिंपिक का टिकट हासिल करने के लिए एथलीट को 90 अंक चाहिए होते हैं और फिलहाल दीपा के पास इसके आधे से भी कम अंक हैं. हम विश्व संस्था का आधिकारिक रुप से कुछ कहने का इंतजार कर रहे हैं.”

यूरोप में मिले कोरोना के नए स्ट्रेन के कारण विश्व कप किया गया रद्द

यूरोप में कोरोनावायरस का नया स्ट्रेन मिलने से एफआईजी ने 25 फरवरी से होने वाले कोटबस विश्व कप और अगले महीने चार मार्च से बाकु में होने वाले विश्व कप को रद्द कर दिया जबकि दोहा में 10 मार्च से होने वाले विश्व कप को स्थगित कर दिया गया. दीपा ने 2016 में हुए रियो ओलिंपिक में चौथा स्थान हासिल कर इतिहास रचा था. हालांकि वह 150 के अंतर से कांस्य पदक जीतने से चूक गई थीं. दीपा ने 15.066 का स्कोर किया था जबकि स्विटजरलैंड की गियुलिया स्टेइनग्रबर ने 15.216 का स्कोर कर कांस्य पदक जीता था.

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.