Jan Sandesh Online hindi news website

16 हजार से ज्‍यादा मामले बीते 24 घंटों में, 113 की मौत, भारत में कोरोना संक्रमण के

0

नई दिल्‍ली। भारत में कोरोना वायरस संक्रमण (COVID-19) के बीते 24 घंटों में 16,838 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 113 लोगों की मौत हुई है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार, भारत में पिछले 24 घंटों में 13,819 लोग इस जानलेवा वायरस की गिरफ्त से बाहर निकले हैं। भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के सक्रिय मामले 1,76,319 हो गए हैं। बीते कुछ दिनों से देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में वृद्धि देखने को मिली है।

और पढ़ें
1 of 1,143

भारत में अब तक कोविड-19 के 1,11,73,761 मामले सामने आ चुके हैं और मौत का आंकड़ा 1,57,548 पहु्ंच गया है। हालांकि, अच्‍छी बात यह है कि अब तक देश में 1,08,39,894 लोग कोरोना वायरस संक्रमण से ठीक हो चुके हैं। इस बीच भारत में तेजी से कोरोना टीकाकरण भी हो रहा है। सभी सरकारी के साथ-साथ सभी निजी अस्‍पतालों में भी 24 घंटे वैक्‍सीनेशन की सुविधा की गई है। अब तक कुल 1,80,05,503 लोगों को कोरोना वैक्‍सीन लग चुकी है।

कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय द्वारा एक ओर तेजी से टीकाकरण किया जा रहा है। वहीं, दूसरी ओर कोरोना संक्रमितों की जांच में भी तेजी लाई जा रही है। 4 मार्च तक 21,99,40,742 सैंपल टेस्‍ट किए जा चुके हैं। बीते 24 घंटों की बात करें, तो 7,61,834 सैंपल टेस्‍ट किए गए हैं। बता दें कि अमेरिका के बाद भारत में सबसे ज्‍यादा कोरोना संक्रमितों की जांच हुई है।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, तमिलनाडु, गुजरात और कर्नाटक में कोरोना संक्रमण के नए मामलों में वृद्धि जारी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि केंद्र उन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लगातार संपर्क में है और जानकारी ले रहा है, जहां इस महामारी के मामलों की संख्या बढ़ रही है। हालांकि, इस बीच अर्थव्‍यवस्‍था में लगातार सुधार देखने को मिल रहा है। कोरोना महामारी से पूरी दुनिया के प्रभावित होने के बावजूद चालू वित्त वर्ष के शुरुआती नौ महीनों (अप्रैल-दिसंबर, 2020) में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआइ) पिछले वर्ष समान अवधि के मुकाबले 22 फीसद बढ़ा है। वाणिज्य मंत्रालय के अनुसार समीक्षाधीन अवधि में कुल एफडीआइ 67.54 अरब डॉलर रहा। पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में विदेशी निवेशकों ने भारत में 55.14 अरब डॉलर लगाए थे।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.