Jan Sandesh Online hindi news website

वामा सारथी ने किया महिलाओं का सम्मानित

0
उन्नाव।
और पढ़ें
1 of 236
 उत्तर प्रदेश पुलिस फैमिली वेलफेयर एसोसिएशन वामा सारथी की जनपदीय अध्यक्षा  काम्या कुलकर्णी के संयोजन में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर अलग अलग क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान वाली महिलाओं का भव्य सम्मान समारोह पुलिस लाइन में अयोजित किया गया।  काम्या  कुलकर्णी ने सभी का स्वागत करते हुए, मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित आई0आई0ए0 के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जी एन मिश्रा के साथ उपस्थित सभी महिलाओं को अंग वस्त्र, पुष्प गुच्छ, प्रशस्ति पत्र व प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। साहित्य से डॉ शशिरंजना, चिकित्सा से डॉ वत्सला परिहार, शिक्षा से नीना दीक्षित, गायन से महिका तिवारी, नृत्य से सोनम बाजपेई, न्यायिक क्षेत्र से अमृता बाजपेई, स्पोर्ट से अंजू गुप्ता, छात्रा शुभ्रा श्रीवास्तव,   कुशल गृहणी शिल्पी श्रीवास्तव, समाजसेवी परिवार परामर्शदाताओं प्रभा यादव, तबस्सुम नफ़ीस, डॉ सबीहा उमर,    महिला थाना प्रभारी प्रेमवती यादव, महिला प्रकोष्ठ सह प्रभारी अर्चना शुक्ला, आरक्षी दिव्या अवस्थी, परिवार कल्याण से सुरेखा, संगीता व रत्नेश, महिला हेल्प डेस्क से शिखा और अन्नू कटियार, महिला उद्यमियों चंद्र शशि श्रीवास्तव, उर्मिला सिंह, तैयबा मतीन, वर्षा शुक्ला, पूजा जैन आदि का सम्मान हुआ। इस अवसर पर परिवार परामर्श केंद्र से सकुशल विदा कराए गए कुछ युगलों ने उपस्थित होकर अपनी कुशलता बताई। आरक्षी दिव्या अवस्थी ने पुलिस विभाग द्वारा महिलाओं व समाज के लिए संचालित सभी योजनाओं का ऑडिओविजुअल प्रस्तुतिकरण किया। महिका तिवारी ने मां और बेटी के मार्मिक रिश्ते पर आधारित गीत सुनाकर सबको भावविभोर किया। डॉ शशिरंजना ने वाणी वंदना और महिला सशक्तिकरण पर आधारित कविता पढ़ कर उपस्थित महिलाओं और बालिकाओं में जोश भर दिया। मार्शल आर्ट कोच पारुल कुमार और अंजू ने महिला आरक्षियों को आत्मरक्षा के गुर सिखाए। मुख्य वक्ता जी एन मिश्रा ने वामा सारथी और सभी को शुभकामनाऐं देते हुए कहा कि महिलाओं को स्वरोजगार देकर स्वावलंबी बनाने में वह हर समय तैयार हैं। डॉ वत्सला ने महिलाओं से संबंधित तरह तरह की बीमारियों के बारे में विस्तार से समझाते हुए उनकी रोकथाम के तरीके समझाए।भव्य कार्यक्रम के कुशल समन्वयन व संचालन के लिए डॉ आशीष श्रीवास्तव, डॉ मनीष  सेंगर, महिला प्रकोष्ठ प्रभारी जीतेन्द्र सिंह को भी सम्मानित किया गया। प्रतिसार निरीक्षक  सुभाषचंद्र मिश्रा ने वामा सारथी की गतिविधियों पर प्रकाश डाला।   काम्या कुलकर्णी ने अपने प्रेरक उद्बोधन के साथ सभी के प्रति आभार जताया।
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.