Jan Sandesh Online hindi news website

कस्तूरबा गाँधी आवासीय बालिका विद्यालय का निरीक्षण कर दिया सम्बन्धित को आवश्यक दिशा निर्देश

0
और पढ़ें
1 of 330

राज्य महिला आयोग सदस्य द्वारा तहसील जयसिंहपुर में महिला जनसुनवाई एवं जागरूकता चैपाल का हुआ आयोजन।

रिपोर्ट:सैय्यद मकसूदुल हसन

महिला उत्पीड़न में त्वरित न्याय दिलायें सम्बन्धित अधिकारी -सुमन सिंह।

सुलतानपुर 17 मार्च/‘‘मिशन शक्ति‘‘ कार्यक्रम के अन्तर्गत आयोजित दो दिवसीय कार्यक्रम के प्रथम दिवस महिला जनसुनवाई एवं जागरूकता चैपाल मा0 सदस्य उ0प्र0 राज्य महिला आयोग सुमन सिंह की अध्यक्षता में तहसील-जयसिंहपुर, जनपद-सुलतानपुर में किया गया, जिसमें पीड़ित महिलाओं के साथ चैपाल लगाकर मा0 सदस्य उ0प्र0 राज्य महिला आयोग के द्वारा शिकायत सुनकर तत्काल निस्तारण हेतु समस्त अधिकारियों को आदेशित किया गया है।उन्होंने जनसुनवाई एवं जागरूकता चैपाल में मिशन शक्ति के अन्तर्गत शक्तिपरी, लैंगिंक समानता, लैंगिंक हिसंा की रोकथाम पीडिता को सामाजिक प्रतिष्ठा दिलाना, घरेलू हिंसा तथा दहेज कानून के अन्तर्गत महिलाओं के प्रति होने वाली हिंसा से बचाव, सहायता, पुनर्वास तथा हिंसा करने हेतु दण्ड का प्रावधान जैसे विषयों पर चर्चा कर जानकारी जानकारी दी।
तत्पश्चात मा0 सदस्य उ0प्र0 राज्य महिला आयोग श्रीमती सिंह द्वारा कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय जयसिंहपुर का आॅकस्मिक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण में विद्यालय में 50 बालिकाओं की जगह 27 बालिकाएं पायी गयी, जिसमें साफ-सफाई एवं सफाईकर्मी की नियुक्ति करने हेतु सम्बन्धित को आदेशित किया।
जिला प्रोबेशन अधिकारी अशोक कुमार द्वारा मिशन शक्ति के अन्तर्गत जनसुनवाई एवं जन जागरूकता चैपाल में महिलाओं के सम्मान, सुरक्षा एवं स्वावलम्बन तथा अधिकारों आदि जैसे-मा0 मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, रानी लक्ष्मीबाई महिला एंव सम्मान कोष योजना के विषय में जानकारी दी गयी।इस अवसर पर उप जिलाधिकारी जयसिंहपुर विधेश, खण्ड विकास अधिकारी इन्द्रावती, महिला थानाध्यक्ष, मीरा कुशवाहा, बाल विकास परियोजना अधिकारी, राजेन्द्र प्रसाद, एवं महिला शक्ति केन्द्र, जिला बाल संरक्षण इकाई सहित सम्बन्धित अधिकारी/कर्मचारी आदि उपस्थित रहे।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.