Jan Sandesh Online hindi news website

मानपुर स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती मरीजों से बाहर की दवाईयों लाने के लिए बनाते हैं स्वास्थ्य

0

उमरिया मानपुर
मानपुर । एक ओर सरकार अच्छी स्वास्थ्य मुहैया करवाने के लिए सरदार वल्लव भाई पटेल योजना के तहत नागरिको को निशुल्क व्यवस्था किये कई वर्षो से मुहिम चला रही है, लेकिन स्वास्थ्य कर्मीयो का आलम यह है कि जब भी कोई मरीज गरिब ग्रमीण भर्ती होने या प्राथमिक स्तर पर ईलाज करवाने हेतु हो या साधरण उपचार के लिए आते हैं तो दवा दुकानों से साठगांठ करके बाहर की दवाईया लाने के लिए मजबूर किया जाता रहा है,

और पढ़ें
1 of 237

दुर्घटना ग्रस्त रक्त रंजित गरीब मरीज यदि स्वास्थ्य केंद्र में प्राथमिक उपचार के लिए आ जाय तो स्टोर रुम उप्लब्ध होने के बावजूद रक्त प्रवाह रोकने के लिए तत्कालिक आकस्मिक उपयोग में आनेवाले ईजेक्शन लगाने के लिए तुरंत उनके परिजनों को बाहर की दवाईया लाने विवस होना पड़ता है पैसा ना होने के अभाव में कई मरीज काल के गाल में समा जाते हैं, साधारण मामलो मे भी जिला चिकित्सालय जाने के लिए सलाह दी जाती है, लेट लतिफी के चलते नतीजतन गरीब रस्ते मे ही दम तोड़ देते हैं,

इस कारण कई लोगों का विस्वास शासकीय व्यवस्था से उठने मे समय नही लगेगा। कमिसनखोरी के चक्कर में स्वास्थ्य कर्मी इतने मसगूल हो चुके हैं की दवाईयों की हेरा फेरी चरम सीमा पर है जिसका फायदा झोलछाप डॉक्टरों को आसानी से संरक्षण प्राप्त हो जाता है, जिससे गरीबो आम आदमींयो का आर्थिक व मानसिक रूप से शोसड़ हो रहा हैं।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.