Jan Sandesh Online hindi news website

यूपी के 7 जिलों में आज से होगा 18+ का वैक्सीनेशन

0

लखनऊ। देश में कोरोना वायरस संक्रमण का कहर कम करने के लिए चल रहे टीकाकरण अभियान के तहत उत्तर प्रदेश के सात जिलों में एक मई से 18 से ज्यादा उम्र के लोगों को कोरोना वैक्सीन का टीका लगेगा। प्रदेश सरकार ने पहले चरण में उन जिलों में इस टीकाकरण का फैसला किया है, जहां पर नौ हजार से अधिक एक्टिव केस हैं। 18 से 44 वर्ष की उम्र के लोगों का टीकाकरण होगा।

और पढ़ें
1 of 528

उत्तर प्रदेश में शनिवार से 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों के कोरोना टीकाकरण की शुरुआत उन सात जिलों से होगी जिनमें कोविड संक्रमण सर्वाधिक है। इन जिलों में लखनऊ, कानपुर नगर, प्रयागराज, वाराणसी, गोरखपुर मेरठ और बरेली शामिल हैं। यह वे जिले हैं जिनमें कोरोना संक्रमण के 9000 से ज्यादा सक्रिय केस हैं।

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण अमित मोहन प्रसाद ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इसके लिए जो सॉफ्टवेयर बना है उसे टेस्ट किया जाएगा। फिर अन्य जिलों में उसे विस्तारित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक 45 वर्ष से अधिक उम्र के 1,01,49,009 लोगों को कोरोना टीके की पहली डोज लग चुकी है। वहीं 22,33,929 लोगों को दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। इन्हें मिलाकर अब तक प्रदेश में कोरोना टीके की 1,23,82,938 डोज लगाई जा चुकी हैं।

शनिवार से शुरू होने जा रहे 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के टीकाकरण को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी आवश्यक कदम उठाने और कहीं कोई लापरवाही न बरतने के निर्देश दिए हैं। इस आयुवर्ग के टीकाकरण के मद्देनजर राज्य सरकार ने कोरोना वैक्सीन की एक करोड़ डोज का आर्डर दिया है। इसमें से 50 लाख डोज का

आर्डर भारत बायोटेक और इतना ही सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया को दिया गया है। शेष चार से पांच करोड़ डोज की आपूर्ति के लिए राज सरकार ग्लोबल टेंडर की तैयारी में जुटी है। इसके लिए केंद्र सरकार से मंजूरी ली जा चुकी है। प्रदेश में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के 9.28 करोड़ लोग हैं।

गौरतलब है कि 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के टीकाकरण के बारे में केंद्र सरकार के फैसले के तुरंत बाद ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक मई से प्रदेश में इसे अमली जामा पहनाने का निर्देश दिया था। 18 पार वालों के टीकाकरण के लिए टीके की आपूर्ति में आ रही समस्या को देखते हुए जहां कई राज्यों के कदम ठिठक गए हैं, वहीं योगी सरकार अपने निर्णय पर अडिग है। टीके की आपूर्ति की समस्या के बावजूद उसने अधिक संक्रमण वाले सात जिलों से इस अभियान का आगाज करने का फैसला किया है। अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने बताया कि टीके की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए राज्य सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। जरूरत के मुताबिक सरकार निर्माता कंपनियों से टीका एयरलिफ्ट भी कराएगी।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.