Jan Sandesh Online hindi news website

प्राइवेट स्कूलों नए सत्र 2021 -22 में 15 से 20 परसेंट स्कूल में की गयी फ़ीस में बढ़ोतरी अभिभावक ने कहाँ

0

बोकारो से शेखर की रिपोर्ट

और पढ़ें
1 of 347

जहां एक तरफ करोना संक्रमण से पूरा शहर डरा हुआ है ऐसे में जिले के प्राइवेट स्कूल पर की फीस जमा करने के लिए अभिभावक पर दबाव बना रहे हैं गत वर्ष के लॉकडाउन लगाने के बाद दोबारा इस वर्ष भी लॉकडाउन से अभिभावक के समक्ष परेशानी है वहीं दूसरी ओर कई निजी स्कूल ने इस सत्र 2021 22 में 15 से 20 परसेंट तक ट्यूशन फी में बढ़ोतरी कर दी है जबकि इस लॉकडाउन से पहले ही गतिविधियां बढ़ी हुई है ऐसे में स्कूलों की तरफ से फोन या मैसेज से अभिभावक परेशान है कई स्कूलों में तो अभिभावक को फोन करके ऑनलाइन क्लास से हटाने की धमकी भी दी जा रही है बार-बार अभिभावकों के मोबाइल पर मैसेज भेज कर फीस जमा करने का दबाव बना रहे हैं कल स्कूल नहीं बंद स्कूलों का भी पूरी फीस जमा करने के लिए संदेश भेजना शुरू कर दिया है वहीं बोकारो के डीएवी पब्लिक स्कूल मैं तो अभिभावक को ठीक है साहब री एडमिशन और डेवलपमेंट चार्ज जिसे कहा जाता है पूरा मांगा जा रहा है आपको बताते जाएं कि फी के सिलसिले में बोकारो के डीएवी स्कूल में अभिभावक और प्रिंसिपल के साथ झड़प भी हो चुकी है स्कूल की फीस को लेकर अभिभावक का कहना है कि निजी स्कूल की ओर से ऑनलाइन क्लासेज के नाम पर पीस तो मांगी जा रही है लेकिन ऑनलाइन क्लास के नाम पर औपचारिकता निभाई जा रही है स्कूल तो बच्चे को 20 मिनट भी नहीं पढ़ा रहे हैं इस्लाम दान के दौरान भी स्कूल प्रबंधक ने 20 परसेंट ट्यूशन फीस में बढ़ोतरी कर अभिभावक की कमर तोड़ दी है जबकि स्कूल की ओर से बच्चों को ऑनलाइन क्लास के माध्यम से पढ़ाया जा रहा है इस कारण स्कूल प्रबंधन को ट्यूशन फीस में बढ़ोतरी नहीं करनी चाहिए थी वही 11 की एडमिशन को लेकर प्राइवेट स्कूल मोटी रकम वसूल रहे हैं

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Comment section

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.