गहलोत नही छोड़ना चाहते हैं कुर्सी शर्ते सुन बढ़ी कांग्रेस की टेंशन

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. राजनीति

गहलोत नही छोड़ना चाहते हैं कुर्सी शर्ते सुन बढ़ी कांग्रेस की टेंशन

गहलोत नही छोड़ना चाहते हैं कुर्सी शर्ते सुन बढ़ी कांग्रेस की टेंशन


राजनीति- राजनीतिक गलियारों में इस समय कांग्रेस के अध्यक्ष पद का चुनाव सुर्खियों में है। जहां राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष बनने को तैयार नही है वही कांग्रेस के वरिष्ठ नेता लगातार उन्हें अध्यक्ष बनाने की कवायद में जुटे हैं। कांग्रेस की कई इकाइयों ने राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने की मांग उठाई है। 

वही अब इस परिपेक्ष्य में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का बयान सामने आया है। अशोक गहलोत ने साफ तौर पर कहा है कि पहले वह राहुल गांधी को अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने की लिये मनाएंगे और जब वह नही मानेगे तो हम अपना नामांकन दर्ज करेंगे। अशोक गहलोत ने अध्यक्ष बनने हेतु हाई कमान की सहमति दी है।
विधायकों की मीटिंग में अशोक कुमार गहलोत ने यह साफ किया है कि वह किसी भी कीमत पर राजस्थान को नही छोड़ेंगे। अगर वह अध्यक्ष बने तब भी वह मुख्यमंत्री बने रह सकते हैं। मुख्यमंत्री बनने के पीछे का कारण विधायकों की मांग है। राजस्थान के विधायक उन्हें ही राजस्थान का मुख्यमंत्री उम्मीदवार देखना चाहते हैं।
वही अशोक गहलोत ने इस परिपेक्ष्य में साफ किया है कि अगर ऐसा हुआ तो ठीक है। और अगर वह अध्यक्ष और मुख्यमंत्री नही रह पाए तो वह अपने किसी करीबी को मुख्यमंत्री बनायेगे। अशोक गहलोत की इन शर्तों ने हाई कमान की टेंशन बढ़ा दी है। वही अगर हाई कमान उनकी इन शर्तों को नही मानेगी तो कांग्रेस पार्टी में एक बार पुनः उथल पुथल देंखने को मिल सकती है।
Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश