Jansandesh online hindi news

14 जुलाई बड़ा दिन है, आज ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो का IPO खुलेगा। यह 16 जुलाई तक खुला रहेगा

 | 
14 जुलाई बड़ा दिन है, आज ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो का IPO खुलेगा। यह 16 जुलाई तक खुला रहेगा

कोरोना महामारी के बीच भारतीय आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) बाजार ने बीते 13 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। दरअसल, बीते छह महीने में आईपीओ के जरिये कंपनियों ने 3.9 अरब डॉलर जुटा ली है। यह 2008 के बाद पहली बार हुआ है कि सिर्फ 180 दिनों में कंपनियों ने इतनी बड़ी रकम जुटाई है। वहीं, 2018 में पूरे साल में जुटाई गई रहम से यह तीन गुना अधिक है। इतना नहीं है आने वाले महीनों में कई नए रिकॉर्ड बनने की उम्मीद है क्योंकि कई बड़ी कंपनियों के आईपीओ बाजार में सूचीबद्ध होंगे।

IPO में पैसा लगाने वाले निवेशकों के लिए आज यानी 14 जुलाई बड़ा दिन है। आज ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो का IPO खुलेगा। यह 16 जुलाई तक खुला रहेगा। इस आईपीओ के जरिये कंपनी 9,375 करोड़ रुपए जुटाने की तैयारी में है।  IPO में निवेश के लिए प्रति शेयर 72 से 76 रुपए प्राइस तय की गई है। 195 शेयरों का एक लॉट होगा। हालांकि, रिटेल निवेशक अधिकतम 13 लॉट के लिए ही अप्लाई कर सकते हैं। सेबी के नियमों के मुताबिक, 2 लाख रुपए से ज्यादा का निवेश आप नहीं कर सकते हैं।जोमैटो का कारोबार देश में दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, चेन्नई, पुणे और कोलकाता समेत कई प्रमुख शहरों में है तो विदेश की बात करें तो यह यूएई, फिलीपींस, साउथ अफ्रीका, न्यूजीलैंड, तुर्की, ब्राजील और इंडोनेशिया, पुर्तगाल, कनाडा, आयरलैंड ऑस्ट्रेलिया और यूएस में भी अपनी सेवाएं दे रही है।

कोरोना संकट के बीच आईपीओ बाजार ने ही नया रिकॉर्ड कायम नहीं किया है बल्कि विलय और अधिग्रहण (एमएंडए) के सौदे ने भी बाजी मारी है। रिपोर्ट के अनुसार, भारत के भीतर विलय और अधिग्रहण के सौदे में 36.1 फीसदी की वृद्धि पहले छह महीने में दर्ज की गई है। पहली छमाही में 21.8 अरब डॉलर के विलय और अधिग्रहण के सौदे हुए जो 2018 की समान अवधि के बाद सबसे अधिक है।