अगर आपका पार्टनर भी जल्दी हो जाता है इमोशनल तो ऐसे करें कंट्रोल

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. स्वास्थ/लाइफस्टाइल

अगर आपका पार्टनर भी जल्दी हो जाता है इमोशनल तो ऐसे करें कंट्रोल

अगर आपका पार्टनर भी जल्दी हो जाता है इमोशनल तो ऐसे करें कंट्रोल


रिलेशनशिप- अगर आप रिलेशनशिप में है तो यह बात तो आप भली भांति जानते होंगे की रिलेशनशिप में लड़ाई झगड़ा होना आम बात है। लेकिन कई बार लड़ाई झगड़े के बीच फीमेल पार्टनर की आंखे भर आती है और वह रोने लगती है। असल में ऐसा इसलिए होता है क्योंकि महिला पुरुष की अपेक्षा अधिक भावनात्मक होती है।
वही जब महिला रोती है। तो पुरुष काफी कन्फ्यूज हो जाते हैं कि अब वह क्या करे की वह अपने पार्टनर को शान्त करवा सके और उन्हें खुश कर दे। लेकिन पुरुषों के लिए यह करना काफी मुश्किल हो जाता है। वही आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे टिप्स जिनका उपयोग करके आप अपनी फीमेल पार्टनर का रोना भी शान्त करवा सकते हैं और उसे खुश भी कर सकते हैं।

इमोशन-

अगर आपकी पार्टनर इमोशनल हो जाती है और उसे रोता देखकर आप भी इमोशनल हो जाते हैं। तो यह सिचुएशन स्थिति को और बिगड़ सकती है। जब आपकी पार्टनर इमोशनल हो जाए तो आपको खुद को थोड़ा गम्भीर दिखाना चाहिए।

सलाह-

कई लोगो की आदत होती है कि जब उनकी पार्टनर इमोशनल होती है। तो वह उसे सलाह देने लगते हैं। उन्हें समजाने लगते हैं और उनसे बड़ी बड़ी बातें करते हैं। लोगो को ऐसा करने से बचना चाहिए। क्योंकि जब आप इमोशन के बीच सलाह को लाते हैं तो यह आपके रिश्ते में समस्या पैदा करता है।

गुस्सा- 

कई पार्टनर अपने पार्टनर के इमोशनल होने पर गुस्सा करने लगते हैं। उसपर भड़क उठते हैं। लोगो को ऐसा करने से बचना चाहिए। क्योंकि जब आप गुस्सा करते हैं तो आपका पार्टनर यह सोच लेता है कि आपको उसके इमोशन की कोई कद्र नही है और आपके रिश्ते पर इसका प्रभाव देखने को मिलता है।

सुनने की आदत-

अगर आपका पार्टनर दुखी हो जाता है। वह आपसे बात नही करता है। तो आपको उसे सुनना चाहिए। उससे पूंछना चाहिए की आखिर वह क्यों परेशान हैं। अगर आप ऐसा करते हैं तो आपके पार्टनर का आपपर विश्वास बढ़ेगा और आपके रिश्ते में मजबूती आएगी।
Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश