Jansandesh online hindi news

दिल्ली में मिला Monkeypox का एक और मामला

 | 
Image

 

डेस्क। दिल्ली के एक 35 वर्षीय नाइजीरियाई व्यक्ति में मंकीपॉक्स (Monkeypox) का संक्रमण मिलने के बाद तनाव की स्तिथि बनी हुई है। रिपोर्ट की माने तो मरीज का हाल ही में यात्रा का कोई इतिहास नहीं रहा है। वहीं आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, यह भारत में मंकीपॉक्स का छठा केस बताया जा है।

इसके बाद नाइजीरियाई नागरिक को इलाज के लिए दिल्ली सरकार के LNJP अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसमें पिछले पांच दिनों से छाले और बुखार के लक्षण देखे गए है। 

बता दें कि मरीज के नमूने पुणे स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (NIV) भी भेजे गए थे। एक आधिकारिक सूत्र ने बताया कि सोमवार शाम को आई एक रिपोर्ट से यह पता चला है कि वह मंकीपॉक्स वायरस से संक्रमित है। 

बता दें कि इससे पहले भी LNJP अस्पताल में मंकीपॉक्स का एक संदिग्ध मरीज भर्ती किया गया था, पर हालत ज्यादा खराब होने के उसे पुणे ले जाया गया। जहाँ की NIV लैब में जांच के बाद उसकी रिपोर्ट नेगेटिव भी आई थी।

दिल्ली में यह मंकीपॉक्स का दूसरा मामला है। वहीं मंकीपॉक्स के दो और संदिग्ध मरीजों को भी LNJP अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूत्रों के मुताबिक मंकीपॉक्स के दोनों संदिग्ध मरीज अफ्रीकी मूल के बताए जा रहे हैं, जिनको दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

 दिल्ली में मंकीपॉक्स के मामलों से निपटने के लिए LNJP अस्पताल को नोडल अस्पताल के तौर पर तैयार किया गया है जहां 10 बेड्स वाला एक स्पेशल वॉर्ड भी बनाया गया है। मरीजों के इलाज और देखभाल के लिए 20 डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ की टीम भी बनाई गई है।

वहीं इससे पहले केरल के त्रिशूर में शनिवार को मंकीपॉक्स से एक शख्स की मौत हो हुई थी। त्रिशूर के पुन्नियूर के रहने वाला 22 वर्षीय युवक की संयुक्त अरब अमीरात से लौटने के कुछ दिनों बाद एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।