क्यों सर्दियों में बढ़ रहा है ह्रदयघात का खतरा

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. स्वास्थ

क्यों सर्दियों में बढ़ रहा है ह्रदयघात का खतरा

क्यों सर्दियों में बढ़ रहा है ह्रदयघात का खतरा


हेल्थ- कड़ाके की ठंड से पूरा भारत ठिठुर रहा है। लोग अपने घरों से नहीं निकलना चाहते हैं। कुछ लोग पूरा दिन आग के सहारे बिता रहे हैं तो कुछ लोग रूम हीटर को अपना सहारा बना चुके हैं। लेकिन इस कड़ाके की ठंड में लोगों का स्वास्थ्य भी काफी बिगड़ रहा है। 
एक ओर सर्दी लगने से लोग बीमार हो रहे हैं। वहीं इस कड़ाके की ठंड के कारण लोगों में हार्ट अटैक का खतरा भी बढ़ रहा है। विशेषज्ञ का कहना है कि अधिक सर्दी के कारण हमारी रक्त कणिकाओं में सिकुड़न आ रही है। इस सिकुड़न की वजह से ह्रदय घात की समस्या बढ़ती जा रही है।
इसका एक कारण हमारे ह्रदय पर पड़ने वाली अधिक मेहनत भी है। हमारे शरीर का तापमान ठंड में कम पड़ जाता है। जिस कारण ह्रदय को ब्लड सर्कुलेशन करने में अधिक दाब लगाना पड़ता है। जो हमारे स्वास्थ्य को प्रभावित करता है।
वहीं लोग सर्दी की वजह से न तो एक्सरसाइज करते हैं और न अपने खान पान का बहुत ध्यान रखते हैं। लोग ज्यादा ऑयली खाना इस सीजन में खाने के शौकीन हो जाते हैं। जो स्वास्थ्य को प्रभावित करता है और इससे हमारा ह्रदय कमजोर होता है। जिस कारण सर्दी के मौसम में ह्रदयघात का खतरा अधिक बढ़ जाता है।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश