सामुदायिक विवाद के चलते 10 लोगों की चाकू मारकर हत्या

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. अंतर्राष्ट्रीय

सामुदायिक विवाद के चलते 10 लोगों की चाकू मारकर हत्या

Image


10 people stabbed to death due to community dispute

डेस्क। कनाडा में बीती रात दो समुदायों के बीच भयानक झड़प हुए जिसके होने के बाद इससे जुड़ी एक हैरान करने वाली बात भी सामने आई। जहां एक ओर पुलिस ने यह बताया कि सस्कैचवन प्रांत में दो समुदायों में हुई हिंसा से 13 स्थानों पर चाकू लगने से 10 लोगों की मौत हो चुकी है।

इस मामले में पुलिस को दो संदिग्धों की तलाश है। पुलिस ने यह भी कहा कि जेम्स स्मिथ क्री नेशन और सस्कैचवन के उत्तर-पूर्व में वेल्डन गांव में कई स्थानों पर छुरा घोंपने की घटना के बाद पंद्रह लोगों को अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है।

आरसीएमपी की रिपोर्ट के अनुसार संदिग्धों की पहचान डेमियन सैंडर्सन और माइल्स सैंडरसन के रूप में की गई है। घटना के बाद से ही लगातार इनकी तलाश के लिए पूरे राज्य में अलर्ट जारी कर दिया गया है। वहीं अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि संदिग्धों का आखिर मकसद क्या था।

आरसीएमपी सस्कैचवन के सहायक आयुक्त रोंडा ब्लैकमोर ने यह भी कहा कि कुछ पीड़ितों को संदिग्धों द्वारा लक्षित निशाना बनाया गया था, वहीं अन्य लोगों पर आचानक से हमला भी किया गया था। हालांकि इसके पीछे के मकसद अभी उजागर नहीं हुआ है। ब्लैकमोर ने यह भी कहा कि जो कुछ भी हुआ है, वह बहुत ही भयावह है।

ब्लैकमोर ने यह बताया कि घायलों की संख्या बढ़ भी सकती है। उन्होंने बताया कि, 'हम हमलावरों को पकड़ने के लिए अपने पूरे सूत्र से व्यापक तलाशी अभियान भी चला रहे हैं।' आरसीएमपी का यह भी कहना है कि उन्हें पता चला है कि दोनों संदिग्ध रेजिना के आर्कोला एवेन्यू में सफर कर रहे हो सकते हैं।

वहीं आम जनता के लिए आरसीएमपी ने एडवाइजरी जारी कर कहा कि निवासियों को दूसरों को अपने घरों में आने की अनुमति देने के बारे में सावधान रहना चाहिए और सुरक्षित स्थान को नहीं छोड़ना चाहिए।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश