Jansandesh online hindi news

दुबई के एक कपल का सोशल मीडिया पर अपने होने वाले बच्चे के जेंडर रिवील का वीडियो वायरल 

 | 
दुबई के एक कपल का सोशल मीडिया पर अपने होने वाले बच्चे के जेंडर रिवील का वीडियो वायरल 

भारत में जन्म से पहले बच्चों की लिंग जांच गैरकानूनी है. ऐसा देश में लड़का और लड़की के लिंग अनुपात (Gender Proportion) में आते भारी अंतर के कारण किया गया. देश में कन्या भ्रूण हत्या के मामलों में बढ़त के बाद ये फैसला लिया गया था. लेकिन विदेशों में लिंग जांच लीगल है. पेरेंट्स अपने बच्चों के जेंडर के बारे में उनके जन्म से पहले जान सकते हैं. इसके लिए उन्हें किसी तरह की सजा नहीं होती. विदेशों में तो बाकायदा जेंडर रिवील के लिए इवेंट का आयोजन किया जाता है. ऐसे ही एक इवेंट के कारण दुबई (Dubai) का एक कपल इन दिनों विवाद में आ गया है.

दुबई के एक कपल ने सोशल मीडिया पर अपने होने वाले बच्चे के जेंडर रिवील का वीडियो शेयर किया. इसके बाद हंगामा मच गया. दुबई के इस कपल ने बाघ के जरिये अपने होने वाले बच्चे का जेंडर बताया. वीडियो को ऑनलाइन शेयर किया गया, जहां से कपल को लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ा. दुनि के मशहूर बुर्ज अल अरब होटल के सामने बनाया गया है. इसमें एक बाघ काले रंग के बैलून को फोड़ता नजर आ रहा है. बैलून फूटते ही आसपास पिंक रंग उड़ने लगता है, जिससे साफ़ हुआ कि कपल बेटी के पेरेंट्स बनने वाले हैं.

पंजे से बैलून फोड़ किया लिंग का खुलासा

शेयर होते ही ये वीडियो विवादों में आ गया. कई सोशल मीडिया यूजर्स ने इसे लेकर सवाल किया कि ये गैरकानूनी है. एक शख्स ने इंस्टाग्राम पर लिखा कि लोग ऐसे काम करते क्यों हैं? अमीर हैं तो बेजुबान जानवरों के साथ ऐसा बर्ताव करेंगे. वहीं कुछ ने लिखा कि जंगली जानवरों को पालतू बनाना कोई तारीफ की बात नहीं है. कई लोगों ने इसे वाहियाद तक कह डाला. हालांकि, शेयर हुए वीडियो के बाद लोगों के मन में एक और सवाल उठा. कई लोगों ने इस वीडियो की दूसरी ही स्टोरी शेयर की.

एक शख्स ने बताया कि हो सकता है कि ये बाघिन ही प्रेग्नेंट हो. लेकिन इसका कोई प्रूफ अभी तक सामने नहीं आया है. लोग जमकर इस वीडियो को शेयर कर रहे हैं. सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हो रहा है.

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।