Hidden camera: कहीं होटल के रूम में तो नहीं लगा है कैमरा, ऐसे करें टेस्ट

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. खास खबर

Hidden camera: कहीं होटल के रूम में तो नहीं लगा है कैमरा, ऐसे करें टेस्ट

Image


डेस्क। कमरे की अलमारी, बाथरूम और रूम में लगे सभी शीशों को टू-वे मिरर टेस्ट के द्वारा ठीक प्रकार से चेक कर लें कि कहीं कमरे में हिडन कैमरा तो नहीं लगाया गया है। 
Hidden Camera : कई बार होटल के रूम में हिडन कैमरे से रिकॉर्डिंग करने के मामले सामने आते रहते हैं। अभी हाल ही में एक होटल से मामला सामने आया जिसमें छिपे कैमरे से रिकॉर्डिंग की जा रही थी। इस मामले की पुलिस ने पूरी कार्यवाही की है और दो लोगों को हिरासत में भी भेजा था। होटल के इन लोगों पर होटल में ठहरे मेहमानों से जबरन वसूली करने के इरादे से वीडियो बनाने  का जुर्म सामने आया था।
पुलिस के मुताबिक होटल के कमरे में कैमरा लगाने से पहले उस कमरे को बुक कराया गया साथ ही इस बात का भी दावा किया गया कि कैमरा इतना हिडन था कि हाउसकीपिंग स्टाफ को भी इसका पता नहीं चल सका। वहीं हिडन कैमरा को लेकर इस तरह के कई मामले भी सामने आते है इसलिए जरूरी है की जब कभी आप होटल में ठहरें तो कुछ बातों का ध्यान जरुर रखें ताकि ऐसी किसी भी स्थिति से आराम से बचा जा सके। 
होटल के कमरे में टीवी मौजूद तो होता ही है जिसका फायदा कैमरा सेट करने के लिए आराम से उठाया जा सकता है। बता दें सिग्नल और ट्रांसमिशन के लिए टीवी और सेट-टॉप बॉक्स की लाइट दिखती रहती है जहां कैमरा आसानी से छुपाया जाता है। इसकी वजह यह है कि इस परिदृश्य में कोई भी इस पर ध्यान भी नहीं दे पाएगा।
 अतः इसको चेक करने के लिए आप स्मार्टफोन की फ्लैशलाइट का उपयोग कर सकते हैं, साथ ही इस बात का भी ध्यान रखे कि अगर आपको टीवी और सेट-टॉप बॉक्स में नीली या बैंगनी रंग की लाइट दिखाई देती है, तो आपको और सावधान रहने की जरूरत होती है।
बता दें जैसे ही आप कमरा लेते हैं तो जरूरी है कि आप उस कमरे की अलमारी, बाथरूम और रूम में लगे सभी शीशों को ठीक प्रकार से चेक कर लें क्योंकि कई बार अपराधी लोग शीशे के पीछे या इनके आसपास भी कैमरा छिपाते हैं। इसलिए यह सबसे ज्यादा जरूरी है कि आप टू-वे मिरर टेस्ट जरूर करें।
बता दें टू-वे मिरर टेस्ट बेहद आसान है जिसमें आपको अपनी फिंगर को शीशे पर रखना होता है और यह देखना होता है कि आपकी फिंगर और उसके प्रतिबिंब के बीच गैप दिख रहा है या नहीं दिख रहा।
बता दें अगर गैप होता है तो यह सामान्य शीशा है और अगर आपकी उंगली और उसका प्रतिबिंब कोई गैप नहीं है यानी यह  एकदम चिपके हुए हैं तो बता दें यह टू-वे मिरर है। इसका मतलब यह हुआ कि आपको शीशे के पीछे से भी कोई देख रहा है। 
वैसे तो कैमरे आमतौर पर कमरे की सजावट में ही छुपाए जाते हैं। और उदाहरण के लिए कैमरा, स्पीकर, अलार्म घड़ी या किसी अन्य कमरे की सजावट में हाइड  भी हो सकता है।  इस मामले में आपको कमरे में रखी गई हर वस्तु को बहुत सावधानी से चेक करना चाहिए। साथ ही कमरे की साज-सज्जा के अलावा, आपको अपने टीवी और सेट-टॉप बॉक्स को भी चेक कर लेना चाहिए।
होटल के कमरे में मौजूद आपको पावर सॉकेट, हेयर ड्रायर और फायर अलार्म जैसी वस्तुओं की भी जांच कर लेनी चाहिए। वहीं सभी वस्तुओं और इस प्रकार की जगहों पर भी हिडन कैमरा मौजूद हो सकता है। जिसके साथ ही बाथरूम के शॉवर को भी चेक करें, कई बार उसमें भी कैमरा छिपा हुआ होता है। आप लाइट बंद करके भी नाइट विजन कैमरा को चेक कर सकते हैं, दरअसल यह कैमरा लाइट इमिट करता है जिससे आप सरलता से कैमरा सर्च भी कर सकते हैं।
Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश