Jansandesh online hindi news

Nag panchmi: Lucknow के इस गांव में हर घर में पाला जाता है सांप, होती है विशेष पूजा

 | 
Image

डेस्क। क्या सांप का नाम सुनते ही आप डर जाते हैं या आपके जेहन में उसके खतरनाक जहर का खयाल आ जाता है। पर क्या आप जानते हैं कि एक गांव ऐसा भी है जहां पर सांप लोगों की जिंदगी का अहम हिस्सा बनकर रहते हैं। यहां सांपों को मारते या भगाते नहीं बल्कि लोग उनके साथ ही में रहते हैं और उनकी विशेष पूजा भी करते हैं।

हम बात कर रहे हैं सौसीरखेड़ा की जहां कोई भी सांप से नहीं डरता क्योंकि सांपों पर यहां के लोगों का जीवन टिका होता है।

मोहनलालगंज से कुछ किलोमीटर की दूरी पर सरोजिनी नगर क्षेत्र में आना वाला सौसीरखेड़ा सपेरों का गांव भी कहा जाता है। सौ परिवारों के इस गांव की दो सौ से अधिक आबादी है। खास बात यह है कि यहां हर घर का मुखिया सांप पकड़ने का ही काम करता है, इसलिए हर घर में आपको सांप मिल जाएगा। यह के लोग जड़ी बूटियों से सांप के काटने का इलाज भी करते है और आसपास के क्षेत्र के अलावा दूर-दूर से लोग इनको सांप पकड़ने के लिए बुलवाते है।

यहां रहने वाले लोग बुलाए जाने के बाद वहां जाकर सांप को पकड़ते है। ये लोग सांप पकड़ने की कोई फीस नहीं लेते लेकिन जो रुपया मिल जाता है उसे चुप चाप रख लेते है साथ में अगर कोई राशन देता है तो वो भी रख लेते है। सांप पकड़ना इनका खानदानी पेशा रहा जो पुश्तों से चला आ रहा है। 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।